MP : भोपाल में को-वैक्सीन का ट्रायल शुरू, पहला टीका लगने के बाद मेल टीचर बोले-‘मुझे ठीक लग रहा है, कोई परेशानी नहीं है…’

0
686
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

टीचर के अलावा अस्पताल में कई वॉलिंटियर्स को टीका लगाया गया. इन वॉलिंटियर्स में किसान, कारोबारी, प्राइवेट नौकरी करने वाले और बुजुर्ग भी शामिल हैं.

भोपाल.मध्यप्रदेश (MP) में को-वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल आज राजधानी भोपाल (Bhopal) के एक प्राइवेट अस्पताल में शुरू हो गया है. प्राइवेट अस्पताल में एक मेल टीचर को को-वैक्सीन का पहला टीका लगाया गया. टीका लगने के बाद टीचर ने कहा-ठीक लग रहा है, मुझे कोई परेशानी नहीं हो रही.

जिस टीचर को यह टीका लगाया, वह पटेल नगर के रहने वाले हैं को-वैक्सीन का टीका लगाने से पहले वॉलेंटियर टीचर का आरटीपीसीआर टेस्ट किया गया. टीका  लगाने के बाद  अस्पताल के डॉक्टर और दूसरे स्टाफ ने उनसे बातचीत की और उनसे पूछा कि कोई तकलीफ तो नहीं.किसी तरीके की कोई दिक्कत या परेशानी तो नहीं है. इस पर टीचर ने जवाब दिया कि मुझे ठीक लग रहा है. मैं नॉर्मल हूं और मुझे कोई परेशानी नहीं हो रही है.

इन्हें लगा टीका…

पटेल नगर में रहने वाले टीचर के अलावा अस्पताल में कई वॉलिंटियर्स को टीका लगाया गया. इन वॉलिंटियर्स में किसान, कारोबारी, प्राइवेट नौकरी करने वाले और बुजुर्ग भी शामिल हैं. को-वैक्सीन के ट्रायल के लिए कई बड़े उद्योगपतियों के परिवार भी पहुंचे. पहले दिन 100 लोगों पर ट्रायल का टारगेट है. शहर के बागसेवनिया, कल्पना नगर, भवानी नगर, चूना भट्टी, होशंगाबाद रोड, सबरी नगर खेड़ी खेड़ी भानपुर से लोग टीका लगवाने के लिए पहुंचे.

हर वॉलेंटियर को 750 रुपए

कोरोना वैक्सीन का ट्रायल देशभर में चल रहा है. यह पहला मौका है, जब भोपाल को तीसरे फेज के ट्रायल के लिए चुना गया है. यहां के गांधी मेडिकल कॉलेज में भी ट्रायल की तैयारी कर ली गई है. लेकिन अभी वहां डोज नहीं पहुंचे हैं. को-वैक्सीन के टीके लगाने वाले हर एक वॉलेंटियर को 750 रुपए दिए जा रहे हैं. इन वॉलेंटियर्स की मेडिकल रिपोर्ट तैयार कर मॉनिटरिंग भी की जाएगी. प्राइवेट अस्पताल को अभी एक हजार डोज मिले हैं. पहले डोज के बाद 28 दिन बाद दूसरा डोज दिया जाएगा.

 

कोई जवाब दें