MP नगर थाने में बार कौंसिल ने FIR करने अवधेश भार्गव की शिकायत, वकील के फर्जी लेटर हेड बना कर फर्जी हस्ताक्षर कर नोटिस भिजवाने के मामले में

0
307
Spread the love

बार काउंसिल ने वकीलों के नाम पर की जाने वाली इस धोखाधड़ी और इसकी आड़ में की जाने वाली  अड़ीबाजी के खिलाफ त्वरित निर्णय लेते हुए थाना प्रभारी MP नगर को लिखित शिकायत देकर आरोपी अवधेश भार्गव पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करने के लिए शिकायत दर्ज कराई

TOC NEWS

पत्रकार साथियों

मैं किसी भी पत्रकार रैली का विरोध नहीं करता परंतु पत्रकार रैली और पत्रकारों के समर्थन की आड़ में खेले जाने वाले खेल का भी हमारे साथी का अवलोकन करना चाहिए। मैंने ऑल *इंडिया स्माल न्यूज पेपर एसोसिएशन ( आइसना )* के प्रांतीय महासचिव होते हुए पत्रकार आंदोलन तक किए कई रैलियां और पत्रकारों का समर्थन जुटाया इस सबके बीच हमारे प्रदेश के अध्यक्ष अवधेश भार्गव ही रहे। परंतु समय के साथ सच्चाई बाहर आना भी जरुरी है।

उन्होंने प्रदेश के किन्ही पत्रकार का किसी भी प्रकार 10 वर्षों में कोई भला नहीं किया मात्र स्वयं अपने परिवार के लिए डेढ़ से दो लाख रुपए प्रतिमाह की इनकम जुटाई। भोपाल के सभी पत्रकार साथी जानते हैं परिवार के स्वयं के पुत्र अविनाश भार्गव एवं नाती बिट्टू भार्गव के नाम से वेबसाइट बना कर फर्जी तरीके से संचालित कर ₹50000 प्रति माह की दर से प्राप्त किया इनका पत्रकारिता और खबर से 1 लाइन का वास्ता नहीं । वही कुछ भोपाल के जिनका पत्रकारिता से कोई वास्ता नहीं उनके लिए जो भोपाल में इनके आगे पीछे का सहला सके उनको भी फर्जी तरीके से विज्ञापन दिलाने की सरकार पर दबाव डाला और इंट्री करवाई। जब मैंने इस फर्जीवाड़े का विरोध किया पर मुझे असंवैधानिक तरीके से संगठन से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

अवधेश भार्गव के लिए इमेज परिणाम
बीच मै हार पहना अवधेश भार्गव जिसने वकील के फर्जी लेटर हेड बना कर फर्जी हस्ताक्षर कर नोटिस भेजा

 

इन 10 वर्षों में अवधेश भार्गव ने अध्यक्ष रहते हुए संगठन की जमा राशि बैंकों में फर्जीवाड़ा धोखा धड़ी कर फर्जी दस्तावेज पेश कर एटीएम जारी करवा लिया और लाखों रुपए की राशि से निकाल ली ज्ञात हो कि बैंक में मेरे महासचिव के फर्जी हस्ताक्षर कर फर्जी लेटर भी लगा लिया। बैंक में किये गए फर्जीवाड़े शिकायत थाना कोहेफिजा एवं थाना टीटी नगर में एवं भोपाल के पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस महानिर्देशक को लिखित में किया गया है। आइसना संगठन के साथ धोखाधड़ी का 420 का मुकदमा जल्द दर्ज होगा। भयभीत होकर इस रैली का आयोजन कर रहा है कि प्रशासन पर दबाव बने और वह जेल जाने से बच जाए।

*अभी अभी ÷ MP नगर थाने में वकील के फर्जी लेटर हेड बना कर फर्जी हस्ताक्षर कर नोटिस भिजवाने के मामले में बार कौंसिल ने FIR करने अवधेश भार्गव की शिकायत*

बौखलाहट और डर इंसान पर कितना भारी होता है इसलिए समझ में नहीं आता कि वह गलती कहां कर रहा है यह गलती हमारे पूर्व साथी अवधेश भार्गव ने मेरे ऊपर फर्जी केस दर्ज करवाने और मेरे मकान और ऑफिस हड़पने के चक्कर में कर दी। उन्होंने मुझे एक भोपाल के वकील का फर्जी लेटर हेड तैयार कर उस पर नोटिस तैयार कर वकील के फर्जी हस्ताक्षर करके मेरे एड्रेस MP नगर ऑफिस में पहुंचा दिया चूँकि मैं कार्यालय में उपस्थित नहीं था वह नोटिस वापस वकील के पते पर पहुंच गया तब वकील नोटिस वापस पहुंचा तो वकील को लगा कि यह तो पूर्व परिचित अवधेश भार्गव की हरकत है।

विनय डेविड को वकील द्वारा भेजा गया खंडन की प्रतिलिपि 

उक्त वकील ने अपने प्रोफेशन के प्रति ईमानदारी और सजगता दिखाते हुए तुरंत इस काली करतूत की शिकायत भोपाल बार काउंसिल के अध्यक्ष श्री राजेश व्यास जी को लिखित शिकायत देकर बताई। बार काउंसिल ने वकीलों के नाम पर की जाने वाली इस धोखाधड़ी और इसकी आड़ में की जाने वाली  अड़ीबाजी के खिलाफ त्वरित निर्णय लेते हुए थाना प्रभारी MP नगर को लिखित शिकायत देकर आरोपी अवधेश भार्गव पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करने के लिए शिकायत दर्ज कराई।

अवधेश भार्गव कथित पत्रकार पहले भी करता रहा है वकीलों और न्यायालय का दुरुपयोग

पूरी कहानियां जल्द ………….

कोई जवाब दें