CBSE Board 2021: बोर्ड परीक्षा में मिलेगी दोहरी सौगात, कम सिलेबस में भी पाएंगे पूरे अंक

0
465
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

कोरोना काल में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) अपने बोर्ड परीक्षार्थियों को दोहरी सौगात देने जा रहा है। बोर्ड संक्रमण के कारण प्रभावित पढ़ाई को देखते हुए सिलेबस में 30 फीसद की कमी तो पहले ही कर चुका है। अब बोर्ड कम सिलेबस के बावजूद सही प्रश्नों के पूरे अंक देगा। यानी विद्यार्थियों के पास अब कम मेहनत में बेहतर अंक पाने का सुनहरा मौका होगा।

सीबीएसई सिटी कार्डिनेटर डा. रामानंद चौहान ने बताया कि बोर्ड की उदारता का 10वीं और 12वीं के बोर्ड परीक्षार्थी इस बार दोहरा फायदा उठाएंगे। उन्हें पहले की तुलना में 30 फीसद सिलेबस कम पढ़ना होगा और प्रश्नपत्र में पूछे गए प्रश्नों का सही जवाब देने पर उन्हें पूरे अंक भी मिलेंगे। बता दें कि कोरोना संक्रमण के कारण कम हुए सिलेबस के कारण हर विषय में करीब चार से पांच अध्याय कम किए गए हैं, लेकिन परीक्षा पूरे अंकों की ही होगी। बोर्ड परीक्षा पास करने को 70 अंकों के विषय में 23 अंक चाहिए होंगे, जबकि जिन विषय की परीक्षा 80 अंकों की होगी, उनमें पास होने के लिए 26 अंक ही लाने होंगे। वहीं प्रयोगात्मक परीक्षा में 30 में नौ अंक लाना अनिवार्य होगा। वहीं, 70 अंकों की प्रायोगिक परीक्षा में भी 23 अंक लाने होंगे।

सेंट एंड्रूज पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य राहुल पाराशर का कहना है कि बोर्ड ने ज्यादातर विषयों के अध्याय कम कर दिए हैं। इससे विद्यार्थियों पर सिलेबस पूरा करने का कम दबाव होगा। सिलेबस से जो अध्याय हटा दिए हैं, उनसे प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। इस लिहाज से बोर्ड परीक्षा में पास होना आसान होगा।

आंतरिक मूल्यांकन से होगा फायदा

विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई के आधार पर ही इस बार आंतरिक मूल्यांकन होगा। इसके लिए स्कूलों को सूचित कर दिया गया है। 10वीं और 12वीं (प्रयोगात्मक विषय छोड़कर) में 20 अंकों का आंतरिक मूल्यांकन होगा, आंतरिक मूल्यांकन में छह अंक लाना अनिवार्य होगा। बोर्ड ने संबद्ध स्कूलों को 12वीं के अंक पैटर्न की सूची भी उपलब्ध कर दी है। बता दें कि 12वीं में बिना प्रयोगात्मक विषय में 20 अंकों का आंतरिक मूल्यांकन होगा, जिसमें गणित आदि विषय शामिल हैं।

ऑनलाइन आएंगे अंक

सीबीएसई ने आंतरिक मूल्यांकन का प्रपत्र तैयार कर लिया है। इसे स्कूलों को भेजा जाएगा। सभी स्कूल इसी प्रपत्र पर आंतरिक मूल्यांकन के अंक भरकर भेजेंगे। आंतरिक मूल्यांकन अंक की जानकारी भी बोर्ड देगा।

सैंपल पेपर किए जारी

विद्यार्थियों की सुविधा के लिए बोर्ड सैंपल पेपर पहले ही जारी कर कर चुका है। इसका ब्लू प्रिंट भी जारी हो चुका है। विद्यार्थी इसी से अंकों का पैटर्न जान सकेत हैं।

कोई जवाब दें