भाजपा की महिला मंत्री को मोदी की चहेती बताकर कांग्रेसी नेता ने कसा तंज

0
684
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने जमीन घोटाले के मामले में बुधवार को रॉबर्ट वाड्रा के बहाने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। ईरानी ने अपनी प्रेसवार्ता में रॉबर्ट वाड्रा, राहुल गांधी और श्रीमती वाड्रा (प्रियंका गांधी) का नाम लिया। उन्होंने कहा कि जीजाजी के साथ साले साहब भी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। उसके थोड़ी देर बाद ही कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला की प्रेसवार्ता थी।

उनसे जब स्मृति ईरानी द्वारा कही गई बात को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने गहरा तंज कस दिया। कहा, एक अशिक्षित व अज्ञानी व्यक्ति से मोदी यह सब कहलवा रहे हैं। ये नहीं पर नहीं रुके, रणदीप ने आगे कहा, फर्जी डिग्री के आधार पर केंद्रीय मंत्री बनने का मौका मिल जाए, इससे उनकी स्थिति समझी जा सकती है।वे मोदी की चहेती हैं। हालांकि इस बाबत रणदीप ने स्पष्टीकरण भी दे दिया।

दरअसल, स्मृति ईरानी ने कहा था कि पिछले 24 घंटे में कई ऐसे तथ्य सामने आए हैं, जो गांधी-वाड्रा परिवार के पारिवारिक भ्रष्टाचार को उजागर करते हैं। राहुल गांधी और हथियार कारोबारी संजय भंडारी के बीच रिश्ता साबित हो गया है। संजय भंडारी के रॉबर्ट वाड्रा के साथ करीबी रिश्ते भी जांच के घेरे में हैं। भंडारी ने यूपीए शासन के दौरान भी कई रक्षा सौदों में हिस्सा लिया। सीसी थांपी और एचएल पाहवा के बीच 54 करोड़ की कड़ी का खुलासा भी हुआ है।

यूपीए शासन के दौरान सीसी थांपी का नाम न सिर्फ पेट्रोल सौदों बल्कि दिल्ली में हुए 280 करोड़ के जमीन सौदे से जुड़े वित्तीय अनियमितताओं में भी सामने आया। थांपी और भंडारी के बीच रिश्ता भी सबको पता है। स्मृति ईरानी ने कहा कि गांधी परिवार ने भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है। पाहवा के घर, ईडी की रेड में राहुल गांधी के नाम के दस्तावेज पाए गए।

इन आरोपों पर रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, ये लोग पांच साल से सत्ता में हैं। सभी जांच एजेंसियां इनके पास हैं। आपको लगता है कि इन्होंने जांच कराने में कोई कसर बाकी रखी होगी। पलवल के पास हसनपुर में राहुल गांधी ने जमीन ली थी। स्टांप डयूटी देकर चेक से जमीन का भुगतान कर दिया गया। उसके बाद वह जमीन राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका को गिफ्ट कर दी। प्रियंका ने उसे एक विपासना शिविर को दान कर दिया। अब बताएं कि इसमें घोटाला कहां और कैसे हो गया।

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी को इसकी कोई जानकारी नहीं है। यही वजह है कि पीएम मोदी एक अशिक्षित और अज्ञानी व्यक्ति से अपनी बात कहलवा रहे हैं। वे मोदी जी की चहेती हैं। साथ ही रणदीप ने कहा, चहेती का गलत मतलब न निकालें। उन्होंने एक महिला पत्रकार की तरफ इशारा करते हुए कहा, ये मेरी चहेती बहन हैं। इसी तरह कई पुरुष पत्रकार भी मेरे चहेते हैं।

कोई जवाब दें