मास्टर ट्रेनरों को दिया गया निर्वाचन संबंधी प्रशिक्षण, ईवीएम संचालन का प्रशिक्षण अच्छे से दें

0
390
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफजिला नरसिंहपुर // अरुण श्रीवास्तव : 91316 56179

नरसिंहपुर | लोकसभा निर्वाचन- 2019 के अंतर्गत मास्टर ट्रेनरों को निर्वाचन संबंधी प्रशिक्षण जिला पंचायत के सभाकक्ष में बुधवार को दिया गया। जिले के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के लिए 10 मास्टर ट्रेनर बनाये गये हैं। प्रशिक्षण के दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी दीपक सक्सेना ने कहा कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का और निर्धारित नियमों का भलीभांति अध्ययन करें और उन्हीं के अनुरूप सभी कार्रवाई पूर्ण करें।

नियम निर्देशों में होने वाले परिवर्तन से अनभिज्ञ नहीं रहें। नियम, निर्देशों की अद्यतन जानकारी रखें। पीठासीन अधिकारियों/ मतदान कार्मिकों को ईवीएम संचालन का हेंडसऑन प्रशिक्षण अच्छे से दें। इसका अभ्यास करायें। निर्वाचन प्रक्रिया को सरलता से बतायें। कहां- कहां दिक्कत हो सकती है, इसके बारे में अवगत करायें और उसका निदान बतायें।

कलेक्टर ने निर्देश दिये कि मतदान कार्मिकों को ईवीएम संचालन का प्रशिक्षण संकुल स्तर पर दिया जावे। इसके लिए कार्यक्रम तैयार कर लें। इस प्रशिक्षण के लिए 20 ईवीएम मशीनें दी जायेंगी। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारियों को बतायें कि वे निर्धारित चैकलिस्ट के अनुसार सभी कार्रवाई पूर्ण करें। श्री सक्सेना ने कहा कि उन मतदान केन्द्रों की पहचान करें, जहां पिछले चुनाव में महिलाओं के मतदान का प्रतिशत कम था।

महिलाओं के मतदान प्रतिशत को बढ़ाने पर फोकस करें। कलेक्टर ने कहा कि मतदान दलों को अच्छे से प्रशिक्षण दिया जावे। पीठासीन अधिकारियों को क्या- क्या करना है, इस बारे में विस्तृत प्रशिक्षण दें, ताकि कोई गलती नहीं हो। प्रशिक्षण के दौरान पीने के पानी की समुचित व्यवस्था की जावे। एसएलएमटी प्रो. सीएस राजहंस ने पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेंशन के माध्यम से मास्टर ट्रेनरों को विस्तार से प्रशिक्षण दिया।

मास्टर ट्रेनरों को निर्वाचन प्रबंधन, निर्वाचन प्रक्रिया, कम्युनिकेशन प्लान, समन्वय, मतदान दिवस की कार्य योजना, सीलिंग आदि के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि इस पर विशेष ध्यान दिया जावे कि सामग्री चैक लिस्ट में मिलान कर ले। नियमानुसार मॉकपोल करायें। मॉकपोल के बाद डाटा क्लियर कर सीआरसी जरूर करें। मशीन की सीलिंग सही तरीके से करें। मतदान का आरंभ समय पर सुनिश्चित हो। मतदान समाप्ति पर क्लोज बटन जरूर दवायें। निर्धारित प्रपत्र भरें। मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए प्रयास किये जावें।

प्रशिक्षण के दौरान अपर कलेक्टर मनोज ठाकुर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार, डीएमएलटी प्रो. अलोक तिवारी और मास्टर ट्रेनर्स मौजूद थे।

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

कोई जवाब दें