छिन्दवाड़ा स्किल ट्रेनिंग सेंटर का मॉड्यूल अन्य जिलों में लागू होगा : बाला बच्चन

0
43
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

मंत्री श्री बाला बच्चन ने तकनीकी शिक्षा विभाग की गतिविधियों की समीक्षा की   

भोपाल : शुक्रवार, जनवरी 11, 2019, गृह, जेल, मुख्यमंत्री से संबद्ध मंत्री श्री बाला बच्चन ने कहा है कि छिन्दवाड़ा के स्किल ट्रेनिंग सेंटर का मॉड्यूल प्रदेश के अन्य जिलों में भी लागू किया जायेगा। श्री बच्चन मुख्यमंत्री से संबद्ध तकनीकी शिक्षा विभाग की गतिविधियों की आज मंत्रालय में समीक्षा कर रहे थे।

इस मौके पर प्रमुख सचिव श्री हरिरंजन राव, सचिव श्री डी.पी. आहूजा और संचालक श्री वीरेन्द्र कुमार मौजूद थे।  मंत्री श्री बच्चन ने 8 इंजीनियरिंग एवं 69 पॉलीटेक्निक महाविद्यालयों में गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये 5 वर्षीय प्रसपेक्टिव प्लॉन बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने इन संस्थाओं के सभी पाठ्यक्रमों में एमबीए प्रसपेक्टिव करवाने के लिये आवश्यक कार्यवाही करने को भी कहा। श्री बच्चन ने शिवपुरी में स्वीकृत नये इंजीनियरिंग महाविद्यालय को वित्तीय वर्ष 2019-20 के सत्र से शुरू करने के निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी इंजीनियरिंग एवं पॉलीटेक्निक महाविद्यालयों में एआईसीटीई के मापदण्ड के अनुरूप बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिये प्रसपेक्टिव प्लॉन बनाया जाये। इसमें बिल्डिंग एवं अधोसंरचना, उपकरण, लैब, पुस्तकालय को शामिल किया जाये। उन्होंने इन सभी संस्थाओं में चरणबद्ध तरीके से छात्रावास सुविधा भी उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये।  मंत्री श्री बाला बच्चन ने विभागीय संस्थाओं में रिक्तियों की स्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए अगले 3 वर्षों में व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने भर्ती एवं नियुक्ति नियमों में आवश्यकतानुसार संशोधन करने को भी कहा।

श्री बाला बच्चन ने ग्लोबल स्किल सिटी पार्क को सत्र वर्ष 2019-20 से शुरू करने के निर्देश दिये। इसके लिये पाठ्यक्रमों के निर्धारण और अधोसंरचना का निर्माण कर कार्यवाही शीघ्र करने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि संभागीय स्तर पर चलित आईटीआई को मेगा आईटीआई में परिवर्तित कर प्रवेश क्षमता लगभग दोगुना तक की जाये। पीपीपी के माध्यम से रोजगार कार्यालय के संचालन की कार्यवाही की विस्तृत समीक्षा की जाये। उन्होंने उद्योगों की माँग के अनुसार कौशल विकास की प्रतिपूर्ति करने के लिये लघु प्रशिक्षण कोर्स की कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

कोई जवाब दें