शहपुरा में हुई जघन्य एंव सनसनीखेज अंधी हत्या का खुलासा, हत्यारे हत्या एवं लूट कर ले गये थे जेवर तथा चिल्लर पैसे

0
75
Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

जबलपुर।  दिनॉक 26-11-18 को प्रातः लगभग 4 बजे शहपुरा में बरमबाबा मंदिर के पास मंगल जैन के मकान में आग लगने की सूचना पर पहुंची पुलिस के द्वारा स्थानीय लोगो की मदद एवं नगर पंचायत शहपुरा की फायर ब्रिगेड से मकान मे लगी आग को बुझाया गया, मंगल जैन के परिजनों द्वारा बताया गया कि जिस कमरे में आग लगी थी उस कमरे में मंगल उर्फ राजकुमार जैन रहते थे ।

तलाश करने पर मंगल जैन का जला हुआ शव मिला एवं मकान के अंदर रखी अलमारी खुली पाई गई व उसमे रखा समान अस्त व्यस्त पाया गया। सूचना पर पहुचे एस.डी.ओ पी. पाटन श्री एस.एन. पाठक, एफ.एस.एल. टीम एवं फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की उपस्थिति में घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुये पंचनामा कार्यवाही कर मंगल उर्फ राजकुमार जैन पिता स्व. प्रेमचंदन जैन उम्र 49 वर्ष निवासी वार्ड न. 06 शहपुरा थाना शहपुरा जिला जबलपुर के शव को पीएम हेतु मेडिकल कालेज भिजवाया गया ।

पी.एम. रिपोर्ट में मृतक के सिर में मृत्यु पूर्व की चोट होना लेख किया गया । जांच पर सोने चांदी के जेवरात लूट कर मंगल जैन की हत्या कर मकान में आग लगाया जाना पाया जाने पर अपराध क्रमांक 462/18 धारा 394, 302, 201 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना मे लिया गया।

राजकुमार जैन के जाग जाने एवं चिल्लाने पर हमला कर की गयी थी हत्या एवं लूट कर ले गये थे जेवर तथा चिल्लर पैसे

दौरान विवेचना के दिनांक घटना 26.12.2018 को घटना स्थल पर मिली सोने की 8 नग अंगूठी, 02 नग सोने की चूडी, 02 नग सोने की कंठी माला, 02 नग सोने के हार, 01 नग सोने का बडा हार, 01 जोड सोने का कान का बाला तथा चांदी के तोडर, लच्छा, करधन, पायल, चांदी के कंगन, बिछिया व 02 बाल्टियों मे भरी हुई चिल्लर को मृतक के भाई कमल जैन के दामाद रविन्द्र जैन निवासी शहपुरा को हिफाजत नामा पर दिया गया है।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से) द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपी की अविलम्ब पतासाजी कर उसकी गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति पुलिस अधीक्षक ग्रामीण डॉ रायसिंह नरवरिया के मार्ग निर्देशन में एक टीम गठित की गयी।

टीम के द्वारा आसपास के सी.सी.टी.व्ही. फुटेज खंगाले गये, पतासाजी पर शहपुरा भिटैनी निवासी चीना श्रीवास्तव एवं उसके एक 16-17 वर्षिय साथी पर संदेह हुआ, जिनके घरों पर दबिश दी गयी जो घरो पर नहीं मिले जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही थी।

दिनॉक 2.12.18 को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि प्रकरण के संदेही चीना उर्फ शुभम श्रीवास्तव तथा उसका साथी शहपुरा भिटौनी स्टेशन मे ट्रेन से उतरकर घर की ओर गये है, तत्काल दबिश देते हुये चीना उर्फ शुभम श्रीवास्तव पिता दिलीप श्रीवास्तव उम्र 19 वर्ष निवासी भिटौनी स्टेशन के पास एंवं 17 वर्षिय साथी निवासी बस स्टैण्ड शहपुरा को पकडा गया एवं सघन पूछताछ की गयी तो बताये कि राजकुमार जैन के भतीजे विक्की जैन ने धमकी दी थी कि यहॉ दिखे तो जान से मार देंगे, विक्की जैन को मारने के लिये घटना दिनाक को दोनो ने अन्नीलाल मेहरा के खेत की बाडी से लोहे की सब्बल लाकर सबसे पहले दुकान की शटर का ताला तोडा एवं सब्बल को मण्डी रोड पर रख कर पुनः दुकान पर जाकर शटर उठाई व दोनो अंदर चले गये तथा शटर बंद कर दी ।

दुकान के उपर जाने पर कमरे मे सोये मंगल उर्फ राजकुमार जैन के जाग जाने एवं चिल्लाने पर चीना का साथी  मकान के पिछले हिस्से से कूदकर भाग गया, मंगल उर्फ राजकुमार जैन  चीना को पहचानते थे, चीना को डर था कि यदि नहीं मारा तो उसे फसा देंगे यह सेचकर चीना श्रीवास्तव ने अपने साथ ले जाये गये हंसिया से मंगल उर्फ राजकुमार जैन की गर्दन पर 02-03 वार किये, मंगल जैन के नीचे गिर जाने पर चीना ने बिस्तर के पास रखी गैस टंकी को उठाकर  मंगल जैन के सिर पर 3-4 बार पटका जिससे मंगल जैन की मृत्यु हो गई .

तब चीना ने घर मे गोदरेज की आलमारी से सोने चांदी के जेवरात निकाले और मंगल जैन के उपर बिस्तर के गददा पल्ली डाल कर कपडा पर मिटटी का तेल तथा खाने के तेल के दो डिब्बो से तेल डाला और एक पतले चद्दर मे आग लगा कर कपडो मे डाल दी तथा लूटा हुआ माल व दो थैलो मे चिल्लर लेकर दुकान की शटर से निकल कर मण्डी तरफ से अपने घर जा रहा था कि रास्ते मे 17 वर्षिय साथी मिल गया जिसे  चीना ने माल का एक थैला दिया तो साथी अपने घर लेकर चला गया । चीना भी अपने घर पहुंचा एवं घटना मे उपयोग किया हुआ हंसिया तथा थैला अपने घर की बिस्तर पेटी मे छुपा दिये तथा बदन पर पहने हुये कपडे व जूते उतार कर एक बोरी मे रख कर मकान के पास कुएं मे फेक दिया।

आरोपी चीना श्रीवास्तव की निशादेही पर घटना मे उपयोग किया हुआ हंसिया जिस पर खून लगा है, एक सोने का हार वजनी करीब 32 ग्राम, चांदी के 11 सिक्के कीमती करीब 2000 रूपये तथा अलग अलग पन्नियों मे रखी 01-02 रूपये की चिल्लर व थैले के अंदर रखे हुये मृतक के बैंक का स्टेटमेंट, पैन कार्ड, 02 मतदाता पर्ची, एक स्टील का जग, घटना मे उपयोग की गई सब्बल तथा 17 वर्षिय साथी के घर से चीना द्वारा दिय गया थैला जिसके अंदर 01-02 रूपये सिक्के की 1500 रूपये की चिल्लर, 01 जोड चांदी की पायल करीब 300 ग्राम वजनी कीमती 12000 रूपये की जप्ती कर दोनो को न्यायालय पेश किया गया।

मान्नीय न्यायालय से आरोपी चीना श्रीवास्तव का 03 दिन का पुलिस रिमाण्ड लिया जाकर पूछताछ की गयी तो चीना द्वारा मृतक के घर की आलमारी से ले जाये गये जेवर को भिटोनी रेल्वे स्टेशन के बाहर एक पुराने खण्डहर क्वाटर मे कचरे के नीचे छुपा देना बताया, चीना की निशादेही पर 05 नग चांदी के करधन, 07 नग लच्छा, 13 नग पायल, 10 नग बिछिया, 10 चांदी के छोटे सिक्के जिनमे कुछ पर निरमा तलब पान मसाला, लाल दंत मंजन व 02 पर लक्ष्मी गणेश की मूर्ति बनी है, 03 नग चांदी के बडे सिक्के, जप्त किया गया है। आरोपी से सघन पुछताछ जारी है। प्रकरण मे मृतक के परिजनो से घटना मे आरोपियों द्वारा लूट कर ले जाये गये जेवरात की सूची मांगी गई है जो अभी तक अप्राप्त है।

जघन्य एंव सनसनीखेजअंधी हत्या का खुलासा कर गिरफ्तारी करने में थाना प्रभारी शहपुरा श्री आसिफ इकबाल, उप निरीक्षक रवि शंकर उपाध्याय, इंजन सिंह, पीएसआई अनिल कुमार, आरक्षक देवेन्द्र जाट, प्रमोद पटेल, अभिषेक कौरव, राजकुमार मिश्रा, रामनरेश राजपूत, वीरेन्द्र यदुवंशी की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह  (भा.पु.से.) द्वारा नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है ।

थाना शहपुरा अपराध क्रमांक-   462/18   धारा 394,302,201 भा.द.वि. 


गिरफ्तार आरोपीः

1- चीना उर्फ शुभम श्रीवास्तव पिता दिलीप श्रीवास्तव उम्र 19 वर्ष निवासा भिटौनी स्टेशन के पास

( वर्ष 2014 में थाना शहपुरा में 2 नकबजनी के प्रकरणों में 15 वर्ष की उम्र में गिरफ्तार किया गया था,शटर का ताला तोडकर जैन मंदिर एवं किराना दुकान मे चोरी किया था)

2- 17 वर्षिय किशोर निवासी बस स्टैण्ड शहपुरा

(आरपीएफ में डीजल एवं पैट्रोल चोरी करते हुये पकडा गया है। )

जप्त मशरूका –  32 ग्राम वजनी सोने का हार, लगभग 2 किलो वजनी चांदी के जेवर करधन, लच्छा, पायल, बिछिया, सिक्के, एवं 3500 रूपये की चिल्लर, घटना में प्रयुक्त हंसिया, सब्बल,  घटना के वक्त पहने हुये कपड़े आदि

कोई जवाब दें