नरसिंहपुर : विधानसभा चुनाव में सेक्टर अधिकारियों की है अहम भूमिका

0
203
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफजिला नरसिंहपुर // अरुण श्रीवास्तव : 91316 56179

नरसिंहपुर. कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अभय वर्मा ने सेक्टर अधिकारियों की बैठक में कहा कि विधानसभा चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष रूप से सम्पन्न कराने में सेक्टर अधिकारियों की अहम भूमिका रहेगी। उन्होंने कहा कि सेक्टर अधिकारी अपने सेक्टर के अन्तर्गत आने वाले सभी मतदान केन्द्रों का भ्रमण कर लें।

मतदान केन्द्रों के बारे में अच्छी तरह परिचित हो जावें। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर कितने मतदाता हैं, कितने महिला- पुरूष, पीडब्ल्युडी वोटर्स, निशक्त, 80 वर्ष से अधिक के वृद्ध मतदाता हैं। एएसडी (अनुपस्थित स्थानांतरित या मृत मतदाताओं) के बारे में मतदान केन्द्रवार जानकारी रखें। इस बार भारत निर्वाचन आयोग ने 88 प्रतिशत से अधिक मतदान का लक्ष्य रखा है। लक्ष्य की प्राप्ति के लिए हमारा प्रयास हो कि शत-प्रतिशत मतदाता मतदान में भाग लें। हमारे मतदान केन्द्र वेलकम एप्रोच की स्थिति में हों। मतदान केन्द्रों पर सभी आवश्यक सुविधाएं हों।

बैठक में उप निर्वाचन अधिकारी जे समीर लकरा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और स्वीप के नोडल अधिकारी आरपी अहिरवार, चारों विधानसभा क्षेत्र में नियुक्त किये गये सेक्टर अधिकारी, सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और मुख्य नगरपालिका अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा चुनाव- 2018 में समावेशी, सुगम, विश्वसनीय और नैतिक मतदान की थीम रखी गई है। इसी को मद्देनजर रखते हुए जिले में सभी 1012 मतदान केन्द्रों को आदर्श मतदान केन्द्र के रूप में बनाया गया है।

वल्नरेबिल और क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर दिया जाये विशेष ध्यान

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि जिले के वल्नरेबिल और क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर विशेष ध्यान दिया जाये। सभी सेक्टर अधिकारी ऐसे मतदान केन्द्रों पर विशेष ध्यान रखें। मतदान केन्द्रों का भ्रमण कर देखें कि यदि कोई असामाजिक तत्व मतदान को प्रभावित कर सकता है, तो इस संबंध में रिटर्निंग अधिकारियों को अवगत करायें, जिससे समय रहते उचित कार्रवाई की जा सके।

मतदान केन्द्रों पर एएमएफ की व्यवस्था देख लें

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और स्वीप के नोडल अधिकारी आरपी अहिरवार ने कहा कि शत प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें। इसके लिए मतदाताओं को प्रेरित किया जाये। मतदान केन्द्रों पर एएमएफ (एश्योर्ड मिनीमम फेसेलिटी) की व्यवस्था देख लें, जिसमें बिजली, पानी, एप्रोच मार्ग, महिला पुरूष शौचालय, व्हील चेयर, कुर्सी आदि की व्यवस्था रहे।

कोई जवाब दें