काला जादू के नाम पर चढ़ाई चार साल की मासूम की बलि

0
454
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

चेन्नई। तमिलनाडु के पुडुकोट्टाई में एक महिला ने काला जादू के नाम पर चार साल की मासूम बच्ची की बलि चढ़ा दी । इस 47 वर्षीया महिला ने ब्लेड से मासूम का गला रेत दिया। घटना पुडुकोट्टाई में इलुप्पर के नजदीक कुरुमपत्ति गांव की है, जहां काला जादू करने वाली चिन्नापिलई नामक महिला ने देवी को खुश करने के लिए बच्ची की जान ले ली। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है और उसने अपना जुर्म भी कबूल लिया।

पुलिस ने सोमवार को महिला को रिमांड पर ले लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बलि चढ़ाने वाली महिला पीड़िता बच्ची शालिनी की पड़ोसी थी। बीते 25 अक्टूबर को आरोपी महिला शालिनी को कुछ दूर खिलाने का लालच देकर अपने साथ ले गई। महिला बच्ची को तकरीबन घर से आधा किलोमीटर से दूर सुनसान इलाके में ले गई।

यह एक सुनसान और अभिशप्त जगह बताई जाती है, जहां पर ग्रामीण स्थानीय भगवान चेम्मुनी के डर से इसलिए नहीं जाते हैं क्योंकि कहा जाता है कि वो इंसानी खून की तलाश में रहती है।

पुलिस का कहना है कि आरोपी महिला ने फैसला किया कि वो चेम्मुनी देवी को बच्ची की बलि चढ़ाकर प्रसन्न करेगी जिससे उसका मंदा पड़ा काला जादू का धंधा फलने-फूलने लगेगा। आरोपी महिला ने पुलिस को बताया कि उसके ग्राहक कम हो गए थे और हाल ही में आई आपदा ने ग्रामीणों को नुकसान पहुंचाया था।

पुलिस की मानें तो ऐसा लगता है कि महिला के साथ कोई सहयोगी था और दोनों ने मिलकर इस स्थान पर बच्ची को काला जादू करके देवी प्रसन्न करने के नाम पर बलि चढ़ा दिया। करीब तीन माह पूर्व हुई इसी तरह की घटना में उसके सहयोगी को कुछ अजीब सा लगा था और वो सदमे में आ गया।

इसके बाद वो बिस्तर पर ही पड़ गया और फिर उसकी मौत हो गई। इसके बाद ग्रामीणों ने महिला से कहा कि वो काला जादू न करे और इसके बाद चिन्नापिलई को बाहरी ग्राहक तलाशने पड़े। तब उसने तय किया कि वो मानव बलि चढ़ाकर चेम्मुनी देवी को प्रसन्न करेगी।

कोई जवाब दें