अफ़ग़ानिस्तान में आतंक फ़ैलाने में आईएसआई का हाथ- अमरुल्लाह सालेह

0
1005
Spread the love

TOC NEWS @ http://tocnews.org

काबुल: अफगानिस्तान अफगान जासूस विभाग के पूर्व प्रमुख अमरुल्लाह सालेह ने बुधवार को कहा कि अफगानिस्तान सरकार पाकिस्तान से पैदा होने वाले आतंकवाद से निपटने में सक्षम नहीं है क्योंकि अफ़ग़ान सरकार द्वारा इस समस्या से निपटने के लिए की गई कोशिशें लगातार नहीं रही हैं.

राष्ट्रीय निदेशालय (एनडीएस) में सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले प्रमुख सालेह ने कहा कि राष्ट्रपति अशरफ गनी ने हाल ही में पाकिस्तान पर अघोषित युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया था, लेकिन इसके बाद भी अफ़ग़ान सरकार ने इसके लिए कोई विशेष कदम नहीं उठाए. विश्व मामलों की भारतीय परिषद से मुलाकात के दौरान उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद द्वारा उत्पन्न किए जा रहे आतंकवाद के खिलाफ काबुल ने कभी लगातार कदम नहीं उठाए हैं.

उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान ने हमारे साथ एक अघोषित युद्ध शुरू किया है, तो हमारी प्रतिक्रिया क्या है? क्या हमने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अपने देश में हो रहे आतंकवादी हमलों में पाकिस्तान सेना की भूमिका के बारे में बहस की है? नहीं, हमने केवल मीडिया से शिकायत की है.

सालेह ने तालिबान का समर्थन करने में सीधा लिंक रखने के लिए इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) पर आरोप लगाया, जिनका मुख्यालय पाकिस्तान में है. उन्होंने कहा कि अगर हमे आतंकवाद के खिलाफ जीत हासिल करना है तो पहले हमें आईएसआई से निपटना होगा, क्योंकि आतंकवाद आईएसआई की ही देन है.

कोई जवाब दें