शाह की रैली में महिलाओं से अभद्रता, चेक किए अंडरगारमेंट्स

0
317
Spread the love

TOC NEWS @ http://tocnews.org/

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की एक रैली विवादों में आ गई है। महिला सशक्तिकरण और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के बड़े-बड़े दावे करने वाली भाजपा पार्टी के अध्यक्ष की रैली में महिलाओं..

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की एक रैली विवादों में आ गई है। महिला सशक्तिकरण और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के बड़े-बड़े दावे करने वाली भाजपा पार्टी के अध्यक्ष की रैली में महिलाओं और युवतियों के अंडरगामेंट तक चेक किए गए। सुरक्षा के नाम पर की गई इस हरकत से रैली में आई महिलाओं को शर्मसार होना पड़ा। रैली में काले झंडे न पहुंचे, इसके लिए महिला पुलिसकर्मियों ने युवतियों के काले कुर्ते-पायजामे, काली साड़ी, चुनरी और दुपट्टा उतरवा दिए।

अमित शाह एक दिवसीय छत्तीसगढ़ दौरे पर चरौदा में आयोजित महिला महासम्मेलन में शिरकत करने पहुंचे थे। सुरक्षा व्यवस्था में तैनात महिला पुलिसकर्मियों ने कार्यक्रम में पहुंच रही महिलाओं के काले रंग के सभी वस्त्रों को चेक किया। खबरों के मुताबिक, शाह की रैली में काले झंडे न दिखाए जाएं, इसलिए महिलाओं के सभी काले कपड़ों को चेक किया गया।

रैली में महिलाओं से की गई बदसलूकी महिला महा सम्मेलन में आए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की सुरक्षा के नाम पर युवतियों और महिलाओं के साथ हुई इस बदसलूकी से बीजेपी पर विपक्ष चौतरफा हमला कर रहा है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस नेता किरणमयी नायक ने कहा कि अभी तक युवकों के मोजे और बेल्ट उतरवाए जा रहे थे। उन्होंने कहा, बीजेपी महिलाओं की सबसे बड़ी हिमायती होने का दावा करती है, लेकिन महिलाओं के साथ हुई बदलसूकी ने बीजेपी सरकार की घटिया मानसिकता दर्शाती है। कांग्रेस के अलावा आम आदमी पार्टी नेताओं ने भी इसके खिलाफ नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।

कांग्रेस नेता ने कहा कि देश में अब ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की जगह बेटियों को भाजपा नेताओं से बेटी बचाओ का नारा चल रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता, मंत्री रेपिस्टों को संरक्षण देते हैं। इनसे महिलाओं की सुरक्षा की उम्मीद करना बेईमानी होगी। बता दें कि अगले महीने राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसलिए दोनों पार्टियों में आरोप-प्रत्योरोप का दौर जारी है।

कोई जवाब दें