नरसिंहपुर : बिगड़ती कानून व्यवस्था का जिम्मेदार कौन, लॉकअप के अंदर सल्फास कैसे पहुंची ?

0
282
Spread the love

TOC NEWS @ http://tocnews.org/

ब्यूरो चीफ गाडरवाराजिला नरसिंहपुर // अरुण श्रीवास्तव : 91316 56179

नरसिंहपुर। गाडरवारा कलेक्टर अभय वर्मा द्वारा बुजुर्ग किसान प्रमोद पुरोहित को धारा 151 के तहत जेल भेजने का मामला ठंडा नहीं हुआ था कि मुख्यमंत्री के प्रवास के पहले धारा 151 में गिरफ्तार किसान की पुलिस अभिरक्षा में मौत से जिले में बवाल मच गया। करेली थाना के लॉकअप में बंद किसान अनुराग राजपूत की मौत पर उसके परिजनों ने पुलिस पर हत्या का आरोप लगाया जबकि पुलिस का कहना है कि अनुराग ने सल्फास खा ली। मामले में करेली थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है औऱ मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं।
युवा किसान की मौत के पहले ही आई जी अनंत कुमार सिंह नरसिंहपुर जिले का दौरा करके लौटे थे। सूत्रों ने बताया कि थाना करेली के ग्राम इंजरी में रहने बाले किसान अनुराग राजपूत को पुलिस मंगलवार को घर से पकड़कर थाना लाई थी। पुलिस ने अनुराग के खिलाफ धारा 151 के तहत कार्यवाही की देर शाम तक अनुराग के परिजन टी आई अरविंद चौबे से अनुराग को एसडीएम के समक्ष पेश करने की फरियाद करते रहे,लेकिन पुलिस ने उसे एसडीएम कोर्ट में पेश नही किया। रात में अनुराग की तबियत हो गई और उसे उल्टियां होने लगीं।
पुलिस आनन-फानन में उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंची जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अनुराग की मौत होते ही पुलिस के हाथ पैर फूल गये। बताया जाता है कि एसआई बसंत शर्मा अनुराग को उसके घर से हिरासत में लेकर थाना आये थे।*

*परिजन बोले पिटाई हुई, पुलिस ने कहा जहर खाया*

मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस की पिटाई से अनुराग की मौत हुई है। सल्फास खाने की बात झूटी है, लॉकअप के अंदर सल्फास कैसे पहुंची ? अनुराग का पोस्टमार्टम डॉक्टरों का पैनल करे ताकि हकीकत सामने आ सके। मामले में सक्रिय बुजुर्ग किसान प्रमोद पुरोहित सहित अनुराग के परिजन 15 सितंबर को जनआशीर्वाद यात्रा लेकर नरसिंहपुर आ रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से शिकायत करने की बात कह रहे हैं

कोई जवाब दें