स्कूल के पहले ही दिन छात्रों से लगवा दिया झाड़ू और बन गया नियम तो चपरासी करने लगे मौज

0
467
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

संकुल प्राचार्य को कोरवारा में मिला जबाब

उचेहरा से रवि शंकर पाठक की रिपोर्ट

उचेहरा। प्रदेष में षिवराज सरकार भले ही बेसिक शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए प्रयासरत  हो। भले ही इसके लिए सर्व शिक्षा अभियान के तहत करोड़ों रुपये पानी की तरह बहाये जा रहे हैं लेकिन  फिर भी जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग सरकार की मंशा को पलीता लगाने में जुटे हैं। 

कोरवारा में  शिक्षकों की करतूत का एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां शिक्षा सत्र के पहले ही दिन बच्चों के  हाथ में झाड़ू पकड़ा दी गई।  विभागीय सूत्रों ने बताया कि प्रभारी बीईओ द्वारा कोरवारा स्कूल का निरीक्षण किया गया जहा  पूरे परिसर में गंदगी देखने को मिली तो मौजूद चपरासी को सफाई करने के लिये कहा गया  लेकिन उसने तत्काल जबाब देते हुए कहा कि मैं परिसर की सफाई नही करूगा।  शिक्षकों की करतूत का यह मामला जिले के कोरवारा विद्यालय का है। जहां शिक्षा सत्र के पहले ही दिन स्कूल में  पढ़ने गए बच्चों को ही शिक्षकों ने झाड़ू पकड़ा कर सफाई के लिए लगा दिया। किस तरह स्कूली ड्रेस में छोटे .छोटे बच्चे  स्कूल में सफाई करने में जुटे हैं।

दरअसल सफाई कर रहे यह बच्चे आज स्कूल में पढ़ने आए थे लेकिन इन्हें पढ़ाने की वजह इनके शिक्षकों ने इन्हें स्कूल  की सफाई का जिम्मा सौंप दिया। बस फिर क्या था अपने अध्यापकों का आदेश पाकर बच्चे करते भी क्या फौरन सफाई  में जुट गए।  इस बारे में शिक्षा अधिकारी संजीव गुप्ता का कहना है शिक्षकों की लापरवाही का यह मामला बेहद निंदनीय है। जांच  रिपोर्ट मांगी गई है और निश्चित तौर पर प्रधानाध्यापक ही दोषी होंगे। रिपोर्ट आने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की  जाएगी।  क्या इन बच्चों को आज भी आजादी नहीं मिली है जिससे इनसे गुलामों जैसा काम कराया जा रहा है ।

विद्यालय की  अध्यापिका कुर्सी पर बैठकर आराम कर रही है और बच्चों को लगा दिया गया झाडू लगाने के लिए । क्या शिक्षा विभाग  के पास इतना भी बजट नहीं है कि मजदूरों से काम कराया जाये इसीलिए बच्चों के हाथ में झाडू थमा दी गई । क्या  सरकार में बच्चे ऐसे ही लगाते रहेंगे झाडू इसी तरह बच्चों को बनाया जाएगा देश का भविष्य जनपद के सभी कस्तूरबा  बालिका छात्राओं का विद्यालय और का बुरा हाल है लेकिन शिक्षा बिभाग के अधिकारी अपने कार्यालयों में बैठ कर मौज  गाँठते रहते हैं।

इनका कहना हैं

कोरवारा स्कूल में तैनात चपरासी साफ सफाई नही करता हैं निरीक्षण के दौरान यह जानकारी लगी थी लिहाजा नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। 

अषोक अग्रवाल, प्रभारी बीईओ उचेहरा

कोई जवाब दें