गाडरवारा : नई ऊँचाइयो की ओर शासकीय प्राथमिक शाला तूमड़ा

0
286
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

व्यूरो चीफ गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889

गाडरवारा / साईंखेड़ा। गत दिवस नई दिल्ली से नेशनल स्तर की यूनिसेफ़ की टीम ने शासकीय प्राथमिक मॉडल शाला तूमड़ा का स्वच्छ भारत, स्वच्छ विद्यालय के तहत आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण 10ः30 बजे लगातार 4 बजे तक यूनिसेफ़ टीम प्रमुख हैदर अली द्वारा किया गया। इस दौरान शाला की स्वच्छता गतिविधियों को एक-एक कर खरी कसौटी पर परखा गया।

प्रार्थना सभा उपरान्त स्वच्छता संदेश, बाल-केबिनेट द्वारा प्रति सप्ताह नाखूनों की जाँच एवं स्वच्छता के कार्यों में सहभागिता देना, स्वच्छता के कार्यों का उचित क्रियान्वयन हेतु शाला प्रधान स्वच्छता प्रभारी शिक्षक व बालकेबिनेट की प्रति शनिवार बैठकों का आयोजन, स्वच्छता आदतों के विकास हेतु विद्यार्थियों के बीच वातावरण उतपन्न करना, सूखे व गीले कचरे हेतु अलग-अलग नीले व हरे कूड़ादान पात्र की उपलब्धता एवं प्रयोग करना,

गीले कचरे के निपटारे हेतु कम्पोस्ट-पिट की उपलब्धता, शौचालय की स्वच्छता व प्रयोग, बालक, बालिकाओं द्वारा पृथक-पृथक शौचालय की उपलब्धता, दिव्यांग बच्चों हेतु रेलिंग, हाथधुलाई यूनिट में मध्याह्न-भोजन के पूर्व साबुन से हाथ धोना, शुद्ध एवं सुरक्षित जल की उपलब्धता, जलस्रोत के आसपास की स्वच्छता, शाला परिसर की स्वच्छता रसोई कक्ष के आसपास व वर्तनों की स्वच्छता ,जल की शुद्धता की जाँच रिपोर्ट, पानी की टंकी की नियमानुसार सफाई, कक्षा-कक्ष की स्वच्छता, शाला में पर्याप्त मात्रा में स्वच्छता संसाधनों की आपूर्ति एवं ग्राम पंचायत के समन्वय से स्वच्छता कर्मी की उपलब्धता आदि सभी बिन्दुओं पर गहनता पूर्वक निरीक्षण हुआ।

शाला प्रमुख हल्केवीर पटैल के सुव्यवस्थित रख-ऱखाव व शाला परिसर की नियमित साफ सफाई व स्वच्छता संबंधी कार्यों के नियमित क्रियान्वयन की टीम द्वारा सराहना की गई। गौरतलब हो कि शासकीय प्राथमिक शाला तूमड़ा ने स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार 2017-18 एम एच आर डी नेशनल क्लीनिंग मिशन अन्तर्गत  जिले व प्रदेश के बाद अब राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार के लिये राज्य की ओर चयनित किया गया है, छोटे से गाँव तूमड़ा के इस सरकारी स्कूल को देश के स्वच्छ-विद्यालय पुरस्कार हेतु नामीनेट साड़े पाँच लाख सरकारी व प्राईवेट स्कूलों में नेशनल अवार्ड हेतु चुना गया है।

निरीक्षण के दौरान शाला प्रमुख हल्केवीर पटैल के अलावा वरिष्ठ महिला शिक्षक सरोज सिलावट, स्वच्छता प्रभारी वर्षा गुमाश्ता, शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष देवेन्द्र पटैल एवं बेसलाईन टेस्ट का निरीक्षण करने आये केन्द्रीय विद्यालय नवोदय के जन शिक्षक राजकुमार पटैल भी उपस्थिति रहे। नवोदय विद्यालय के जन शिक्षक ने भी जब विद्यालय का निरीक्षण किया तो शाला के आनन्ददायी स्वच्छ वातावरण व उत्कृष्ट कोटि के शौचालय की तारीफ करते हुए,

इस शाला को सभी सरकारी स्कूलों के लिए प्रेरणा दायी बताया साथ ही प्रबंधन की सराहना की। विदित हो कि दो माह पूर्व 21 मार्च को राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल की स्वच्छ विद्यालय जाँच टीम ने प्राथमिक शाला तूमड़ा कौ भौतिक परीक्षण किया था ,जिसमें जाँच रिपोर्ट पाजिटिव व साक्ष्य सही सही पाये जाने के परिणाम स्वरूप सर्वप्रथम तूमड़ा शाला को स्वच्छ विद्यालय राज्यस्तरीय पुरस्कार के लिये चुना गया तदोपरान्त राज्यशिक्षा केन्द्र से ही नेशनल अवार्ड हेतु नामिनेट किया गया था।

कोई जवाब दें