पत्रकार ने घोंटा अपने ही दो मासूमों का गला, फिर खुद भी चढ़ गया फांसी, पत्नी ने भी खाया जहर

0
165
Spread the love
TOC NEWS @ www.tocnews.org

नई दिल्ली। कहते हैं मजबूरी इंसान से क्या कुछ नहीं करवाती। कई बार तो हालात जान देने या लेने तक पहुंच जाते हैं। कुछ ऐसा ही हुआ है तेलंगाना में। यहां के सिद्दीपेट में एक पत्रकार ने अपने ही दो मासूम बच्चों का पहले गला घोंट दिया फिर खुद भी फांसी लगा ली। पेशे से पत्रकार हनुमंत राव की पत्नी ने भी जहर खा लिया हालांकि पत्नी को पड़ोसियों देख लिया और उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां उसकी हालात गंभीर है।

आर्थिक तंगी की वजह से ली जान
35 वर्षीय हनुमंत राव एक तेलुगू समाचार पत्र के साथ काम करते थे, लेकिन इन दिनों वो गंभीर आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे। ऐसे में लंबे समय से हनुवंत अवसाद में चल रहे थे। यही कारण है कि उन्होंने बुधवार को अपनी पत्नी मीना के साथ पहले अपने 5 और 3 साल के बच्चों को गला दबाकर मार डाला और उसके बाद खुद फांसी लगा ली।

10 लाख रुपए का था कर्ज
दरअसल हनुमंत के सिर पर 10 लाख से ज्यादा का कर्ज था। कर्ज के चलते काफी समय से लोग उन्हें वसूली के लिए दबाव भी बनाते थे, यही वजह है कि अपने साख और बड़े कर्ज ने हनुवंत को काफी परेशान कर रखा था।

पत्नी की हालत गंभीर
हनुवंत के फांसी लगाने के बाद उनकी पत्नी ने भी जहर खा लिया। गुरुवार को जब पड़ोसियों ने दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब नहीं मिला। ऐसे में पड़ोसियों को शक हुआ कि कुछ तो गड़बड़ है, शक के चलते पड़ोसियों ने उनके घर का दरवाजा तोड़ दिया तो कमरे के अंदर का मंजर देखकर वे हैरान रह गए। वहां हनुमंत राव और दोनों बच्चों की लाश पड़ी थी, जबकि हनुमंत की पत्नी मीना जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही थी। फौरन पुलिस को घटना की सूचना दी गई और मीना को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है, जबकि तीनों दोनों मासूमों समेत पित के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गया है, लेकिन इस पूरे वाकये ने शहर को हिला कर रख दिया है।

कोई जवाब दें