अधिकारियों को ”स्कूल चलें हम” अभियान को सफल क्रियान्वयन के संबंध में निर्देश जारी

0
75
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

गाडरवारा // अरूण श्रीवास्तव : 8120754889 

गाडरवारा। गर्मियों की छुट्टियां खत्म होने के साथ साथ 15 जून से जिले के सभी स्कूल चालू हो गये है। इसी के साथ 15 जून से स्कूल चलें हम अभियान भी चालू हो रहा है, पहले दिन स्कूलों में प्रवेषउत्सव मनाया जाएगा। जो छात्र अप्रैल में स्कूल में प्रवेश लेने से रह गए हैं, उन्हें अनिवार्य रूप से प्रवेश दिलाने के लिए राज्य सरकार ने निर्देश जारी कर दिए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने अधिकारियों को अभियान को सफल क्रियान्वयन के संबंध में जारी किए गए।
निर्देश में कहा है कि कक्षा 1 से कक्षा ग्यारहवीं तक ऐसे छात्रों की पहचान की जाए। जिनका शालाओं में अप्रैल माह में प्रवेश नहीं हो पाया है। इसके साथ ही सामुदायिक सहयोग से ,षाला से बाहर तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए रणनीति तैयार की जाए। जिले में शिक्षा सत्र 2016-17 के नामांकन के आधार पर वर्ष 2017-18 में नामांकन में गिरावट वाली संस्थाओं की सूची के आधार पर समीक्षा की जाए।

हर स्कूल में कराएं बालसभा

शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है कि 15 जून को अनिवार्य रूप से प्रत्येक सरकारी विद्यालय में शाला प्रबंधन और विकास समिति की बैठक के साथ विशेष बालसभा का आयोजन किया जाए। इन सभाओं में बच्चों की नियमित उपस्थिति दक्षता उन्नयन और पाठ्य पुस्तकों के वितरण के संबंध में अनिवार्य रूप से चर्चा की जाए। किसी एक सरकारी विद्यालय में 18 जून को महारानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस के मौके पर देश के जवानों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। इस दिन प्रत्येक शासकीय विद्यालय में भारतीय सेना और सीमा सुरक्षा बल के जवानों तथा सेवा निर्मित सैन्यकर्मियों को विद्यालय में आमंत्रित कर उन्हें सम्मानित किया जाए।

20 जून को स्कूलों के पूर्व छात्रों से होगा संवाद

स्कूल शिक्षा विभाग ने पूर्व छात्रों को स्कूलों में बुलाने के निर्देश भी दिए हैं, इसके तहत 20 जून को प्रत्येक शासकीय विद्यालय में उन छात्रों को विशेष रूप से आमंत्रित किया जाए। जो समाज में सक्रिय कर राष्ट्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं, ऐसे छात्रों के साथ परस्पर संवाद किया जाए। इसी के साथ 22 जून को पालक सम्मेलन का आयोजन प्रत्येक सरकारी विद्यालय में सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है, सम्मेलन में विद्यार्थियों के माता-पिता को आमंत्रित किया जाए। सम्मेलन में ऐसे वालंटियर्स की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। जो स्कूल शिक्षा विभाग के मिल बांचे कार्यक्रम प्रणाम पाठशाला और अन्य गतिविधियों में सक्रिय रुप से जुड़कर सहयोग करते हैं

15 दिन तक स्कूलों में चलेंगे खेलकूद के कार्यक्रम 

15 दिन तक स्कूलों में चलेंगे खेलकूद के कार्यक्रम 15 से 30 जून तक जिले के प्रत्येक सरकारी विद्यालय में कम से कम एक कालखंड में एक खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम करने के लिए कहा गया है। जिसमें प्रत्येक सरकारी षाला भवन और छात्रावास में साफ-सफाई के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। बे इनमें सामुदायिक सेवा का भी सुनिश्चित की जाए। इसके साथ ही जिले में पन्नी बीनने वाले बेघर अनाथ बच्चों के लिए संचालित सरकारी छात्रावासों में बच्चों का प्रवेश सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

शिक्षा विभाग के पोर्टल पर लगेगी शिक्षकों की हाजिरी

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रत्येक अधिकारी कर्मचारी की एम शिक्षा मित्र पोर्टल पर उपस्थिति दर्ज कराई जावेगी। शिक्षण सत्र 2018-19 में समग्र शिक्षा पोर्टल में नामांकन प्रोफाइल अपडंेशन का कार्य 20 जून तक पूरा किया जाएगा। विभाग की पाठ्य पुस्तक छात्रवृत्ति और साइकिल वितरण योजना में सामग्री का शत-प्रतिशत विवरण स्कूल शिक्षा विभाग के पोर्टल पर उसकी प्रविष्टि कराई जावे।

कोई जवाब दें