पति की सुरक्षा के लिए महिला हवलदार ने लगाई पुलिस से गुहार

0
187
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

अशोकनगर. पिपरई| अक्सर अपने बेटों के द्वारा पिता को प्रताड़ित करने की खबरें सुनी होगी। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी खबर सुनाने जा रहें हैं, जिसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे। जी हां एक पिता ही अपने बेटे की जान का दुश्मन बना हुआ है, जिससे परेशान होकर बेटे और बहू ने पुलिस से अपनी जान की सुरक्षा के लिए गुहार लगाई है, जानकारी के अनुसार पिपरई निवासी डब्बू विश्र्कर्मा जोकि पानी की टंकी के पास अपनी दुकान पर लकड़ी की कारीगरी का कार्य करते हैं, और उनकी पत्नि लता विश्र्कर्मा पुलिस विभाग में हवलदार ने पद पर नियुक्त हैं, और वह अशोकनगर, दिहात थाने में पदस्थ हैं, जोकि पहले तो पिपरई में ही अपने सास ससुर के साथ रहेती थी। मगर घर में रोज रोज की लड़ाई और सास ससुर द्वारा प्रताड़ित करने के कारण उन्होंने अपना निवास कई साल पहले ही अशोकनगर, में कर लिया। मगर उनके पति डब्बू विश्कर्मा कि पिपरई मैं दुकान होने के कारण उन्हें रोज अप डाउन करना पड़ता है, इसी बीच डब्बू विश्कर्मा के पिता रामसरूप विश्र्कर्मा अक्सर डब्बू की दुकान पर आकर उसके साथ गाली गलौज करते हैं, आज सुबह जब वह अपनी दुकान पर पहुंचे तो उनके पिता रामसरूप विश्र्कर्मा और डब्बू के भाई संजय विश्र्कर्मा लाठी लेकर मारपीट करने के लिए आ गए। बड़ी मुश्किल से वह आसपास के लोगों की वजह से वह अपनी जान बचाकर भागे और इस घटना की जानकारी अपनी पत्नि को दी। पत्नि के आते ही वह पुलिस थाने पहुंचे और अपने पिता रामसरूप और के खिलाफ शिकायत दर्ज की। वही डब्बू कि पत्नि लता विश्र्कर्मा ने बताया कि मेरे पति की जान को खतरा है क्योंकि मेरे ससुर पति को जान से मरबाने की बात कहते हैं। साथ ही साथ वह पुलिस विभाग पर भी यह इल्जाम लगाते हैं कि उनकी बहू पुलिस में इसलिए उनकी कोई सुनवाई नहीं होती। जबकि उन्हीं की वजह हमने पिपरई छोड़ी है अब अगर मेरे पति के साथ कोई भी घटना घटित होती है तो इसके जिम्मेदार मेरे सास ससुर और देवर और उनका पूरा परिवार होंगा।

कोई जवाब दें