निशाने पर शिवराज सरकार : प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का आरोप, घोटाला छुपाने सरकार जानबूझ कर सड़ा रही अनाज

0
207
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

मध्यप्रदेश में चुनावी साल में शिवराज सरकार विपक्ष के निशाने पर है, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने एक बार फिर तीखा हमला बोला है| किसानों से खरीदा गया करोड़ों का अनाज बदइंतजामी के कारण बारिश से ख़राब हो रहा है| इसको लेकर कमलनाथ ने सरकार पर आरोप लगाए हैं|

नाथ ने कहा है ऐसा लग रहा है कि सरकार अनाज खरीदी में हुए भ्रष्टाचार और घोटालों को दबाने के लिए जानबूझकर अनाज बरसात में भीगने और बर्बाद होने के लिए छोड़ रही है, ताकि खरीदी में भ्रष्टाचार और घोटोलों पर पर्दा डाला जा सके।कमलनाथ ने कहा सरकार ने समर्थन मूल्य पर व भावांतर योजना में व्यापक पैमाने पर गेहूं, प्याज, चना सहित अन्य अनाज खरीदा है।किसान हितैषी होने का दावा कर करोड़ों रूपये खर्च किये, लेकिन सरकार की लापरवाही और गलत नीतियों के कारण प्रारंभिक बारिश में ही बहुत सारा अनाज भीग गया। बरसात को देखते हुए करोड़ों रूपयों का अनाज बर्बाद होने की कगार पर है।

नाथ ने कहा कि पौने दो लाख करोड़ के कर्ज में डूबी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई को बर्बाद कर रही है। अनाज भंडारण की कोई व्यवस्था सरकार ने नहीं की है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष इसी तरह करोड़ों रूपयों की प्याज खरीदने के बाद सड़ गई थी। लेकिन सरकार ने इस नुकसान से सबक नहीं लिया। इस वर्ष भी सुरक्षित अनाज भंडारण का कोई इंतजाम नहीं है। करोड़ों रूपयों का अनाज बर्बाद होने की कगार पर है।
कमलनाथ ने कहा कि भ्रष्टाचार और घोटालों को दबाने के लिए जानबूझकर अनाज बरसात में भीगने और बर्बाद होने के लिए छोड़ रही है, ताकि खरीदी में भ्रष्टाचार और घोटोलों पर पर्दा डाला जा सके।क्योंकि समर्थन मूल्य पर खरीदा गया चना, मसूर, सरसों में व भावांतर योजना मंे खरीदे गये प्याज,लहसुन एवं गेहूं की खरीदी में प्रदेश के विभिन्न जिलों से भ्रष्टाचार व घोटालों की खबरें निरंतर आ रही हैं। शायद इसी पर पर्दा डालने के लिए इस बर्बादी की साजिश रची जा रही हैl

कोई जवाब दें