हाई-अलर्ट के दौरान बीच शहर में जघन्य हत्या, पहचान खुलने पर डॉ. शफातुल्ला की कर दी हत्या

0
281
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जबलपुर। ओमती थाना क्षेत्र भवंरताल उद्यान के समक्ष कृतिका अपार्टमेंट के चौथे माले में रहने वाले डॅा. शफातुउल्ला खान जो कि जिला स्वास्थ्य विभाग के लीगल आफीसर एवं ज्वाइंट डायरेक्टर भी है की उन नकाबपोशों ने चाकूओं से गोदकर इसलिये हत्या कर दी की घटना को अंजाम देने के पूर्व बातचीत के दौरान ही उनका नकाब गिर गया जिसके चलते डॉक्टर खान ने उन्हें पहचान भी लिया था। इसके पूर्व दो नकाबपोश डॉक्टर खान के घर पर शाम ७ बजे पहुंचे और उन्होंने काल बेल बजायी तथा जिसे सुनकर डॉ. खान ने दरवाजा खोला.

दरवाजा खुलते ही उन दो नाकाब पोशों ने डॉक्टर से कहा कि तू आजकल बहुत बैंक जा रहा है बता कितना पैसा लेकर आया है और कहां रखा है निकालकर दे वरना तेरी हत्या कर देंगे। इसी बातचीत के दौरान उक्त नाकाबपोश का नकाब गिर गया और डॉक्टर खान ने पहचान भी लिया इस दौरान डॉक्टर ने कहा कि अबे तू यहंा क्यों आया है, तूझे कुछ नहीं मिलेगा, तब अपनी पहचान खुलने और डॉक्टर द्वारा रूपये न देने की बात सुनकर नकाबपोशों ने न केवल डॉक्टर खान पर चाकूओं से दनादन वार कर दिया जिससे बचने डॉक्टर खान यहां वहां भागे लेकिन उन्होंने गला रेतकर और चाकू उस समय तक मारते रहे जब तक की डॉक्टर ने दम नहीं तोड़ दिया।

चाकूओं से हमले के दौरान डॉक्टर खान की पत्नि और बेटी बचाव के लिये चिल्लाती रहीं जिसकी गूंज दूर तक सुनाई दी, जिसको देख नकाब पोशों ने उन्हें बंधक बनाया और बेटे को बाथरूम में बंद कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद नकाब पोश भागने में सफल हो गये।

लोन की राशि को लेकर मिली थी खबर

जानकार सूत्रों के अनुसार डॉ. खान द्वारा किसी कार्य को  लेकर लोन लिया जा रहा था जिसके कारण वे बार-बार बैंक भी जा रहे थे जिसकी खबर इन नकाबपोशों को भी रही जिसके कारण इन्होंने डॉ.खान के घर पहुंचते ही बैंक की बात कहते हुये उनसे रूपये की मांग की। इन नकाबपोशों को इसकी खबर कैसे लगी इसको लेकर परिजन एवं पुलिस भी अचम्भित है।

पति-पिता पर खूनी हमले से बिलख पड़ी पत्नि-बेटी

अपनी आंखों के सामने ही पति-पिता पर हो रहे जान लेवा खूनी हमले और फर्श पर फैले खून तथा लाश देखकर डॉ. खान की पत्नि और उनकी बेटी बिलख उठी और बचाव के लिये आवाज भी लगाई और लोगों ने सुना भी लेकिन जब तक वे पहुंचते तब तक नकाबपोश हत्या करके जा चुके थे।

सीसीटीवी केमरे में कैद हुये

घटना स्थल के सामने एवं मुख्य सड़क एवं अपार्टमेंट पर सीसीटीवी केमरा लगा होने के कारण नकाबपोशों के चेहरे तो कैद तो हो गये हैं लेकिन इस मामले में पुलिस सूक्ष्म रूप से जांच कर रही है।

वरिष्ठ अधिकारियों का जमावड़ा

घटना की खबर लगते ही दर्जनों पुलिस अधिकारियों का जमावड़ा घटना स्थल पर लगा हुआ है जो कि अपने अपने हिसाब से हर पहलू को जांच परख रहा है।  ऐसा भी बताया जा रहा है कि नकाबपोशों को पकडऩे के लिये दो तीन पुलिस की टीम बनी हैं जिसमें क्राईम ब्रांच पुलिस भी शामिल है लेकिन इन पंक्तियों के लिखे जाने तक नकाबपोशों का पता नहीं चल पाया है।

कॉलेज के छात्रों के शामिल होने की संभावना

सूत्रों के अनुसार इस मामले में डॉ खान के जानकार लोगों के साथ साथ डॉ खान की बेटी, जो कि कॉलेज में पढ़ रही है, के कालेज के छात्रों के शामिल होने की संभावन व्यक्त की जा रही है। परंतु अभी यह बात चर्चाओं में ही है।

रूपये, जेवर ले जाने की भी चर्चा

डॉ.खान पर जानलेवा हमला हत्या करने वाले नकाबपोशों द्वारा घर में रखे और जेवर आदि की भी ले जाने की चर्चा है लेकिन कितना रूपये पैसा जेवर है का पता जांच जारी रहने के कारण नहीं चल पाया है।

कोई जवाब दें