OBC सम्मेलन में बोले राहुल- हिंदुस्तान भाजपा और RSS का बना गुलाम

0
125
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

  • ओबीसी वर्ग में स्किल की कोई कमी नहीं है, उनमें हुनर भरा हुआ है.
  • हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री कहते हैं कि यहां कौशल की कमी है. ये झूठ है
  • एक साल में मोदी जी ने उद्योगपतियों को 2.5 लाख करोड़ रुपये दिए हैंं

नई दिल्ली: दिल्‍ली के तालकटोरा स्‍टेडियम में ओबीसी सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार पर हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि कर्ज माफ होगा तो 15 लोगों लेकिन किसानों का कर्जा माफ नहीं होगा.

कांग्रेस अध्‍यक्ष ने कहा कि एक साल में मोदी जी ने उद्योगपतियों को 2.5 लाख करोड़ रुपये दिया है, लेकिन किसान को एक रुपया नहीं दिया, उनकी कर्ज माफी नहीं होने वाली है. उन्‍होंने कहा कि क्‍यों हमारे किसानों और छोटे बिजनेस करने वालों के लिए बैंक खुलते हैं? उन्‍होंने कहा कि ओबीसी समुदायों के बीच कौशल की कोई कमी नहीं है, लेकिन उनमें पूंजी की कमी है. उन्‍होंने कहा कि आज हिन्दुस्तान एक प्रकार से बीजेपी के दो-तीन नेताओं का गुलाम बन चुका है.

उन्‍होंने कहा कि हिन्‍दुस्‍तान में काम कोई करता है और फायदा किसी और को होता है. राहुल ने लोगों से पूछा कि आपने कोका कोला कंपनी का नाम सुना है. आपको पता है कि इस कंपनी का मालिक पहले अमेरिका में पानी में चीनी मिलाकर शिकंजी बेचता था. उसके स्किल की पहचान हुई और उसे पैसा मिला. इसके बाद उसने कोका कोला कंपनी बनाई. इसी तरह मैकडोनाल्ड कंपनी का मालिक पहले ढाबा चलता था. उन्‍होंने कहा कि हिन्‍दुस्‍तान में ढाबा चलाने वाले किसी व्‍यक्ति ने कंपनी बनाई है. उन्‍होंने कहा कि जो ढाबा चलाता है, जो कारीगर है जो काम करता है, उसको ये देश कुछ नहीं देता है. हमारे लोगों के लिये बैंक के और राजनीति के दरवाजे बंद हैं.

राहुल ने कहा कि बीजेपी के सांसद कहते हैं कि हम लोकसभा में बैठे हैं लेकिन यहां हमारी कोई बात नहीं सुनता. सिर्फ आरएसएस की सुनते हैं. उन्‍होंने कहा कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री कहते हैं कि यहां कौशल की कमी है. ये झूठ है. ओबीसी वर्ग में स्किल की कोई कमी नहीं है. उनमें हुनर भरा हुआ है.

उन्‍होंने कहा कि 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने जैसे बड़े-बड़े वायदे किये. आठ साल में सबसे ज्यादा बेरोज़गारी हिन्दुस्तान में है. आज प्रधानमंत्री जी रोज़गार, स्किल की बात नहीं करते. बीजेपी कि रणनीति साफ है. पूरा का पूरा फायदा 15-20 लोगों को जायेगा. उसमें न ओबीसी, न किसान, न आदिवासी… किसी की नहीं चलेगी.

कोई जवाब दें