गरीब परिवार प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पाकर सुकून की जिंदगी बिता रहे : ऊषा बाई गौंड, नरेन्द्र मोदी ने खुद उससे बात की

0
341
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जबलपुर, 05 जून, 2018, जिले की जनपद पंचायत जबलपुर के ग्राम गौर सालीवाड़ा की ऊषा बाई गौंड ठाकुर बहुत खुश है । उसे खुशी इस बात की है कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने खुद उससे बात की और वो भी करीब पांच मिनट तक । 

ऊषा बाई गौंड प्रधानमंत्री आवास योजना की हितग्राही है और इस योजना से मिली आर्थिक सहायता से पक्के घर का उसका सपना पूरा हुआ है । मेहनत मजदूरी कर अपना जीवन यापन कर रही 44 वर्षीय इस आदिवासी विधवा महिला से जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से उसके हाल चाल पूछे तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा ।  कलेक्टर कार्यालय के वीडियो कांफ्रेंस रूम में बैठी ऊषा बाई ने प्रधानमंत्री को बताया कि किस तरह प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिले पक्के घर से उसके जीवन में बदलाव आया है ।

प्रधानमंत्री के इस प्रश्न के जवाब में कि वो पक्के घर में रहकर कैसा महसूस कर रही है ।  ऊषा बाई ने बताया कि उस जैसे कई गरीब परिवार प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पाकर सुकून की जिंदगी बिता रहे हैं ।  ऊषा बाई ने प्रधानमंत्री को बताया कि वो झोपड़ी में रहती थी और बारिश में उसे खपरैल से टपकने वाले पानी से काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था । घर का सामान और अनाज गीला हो जाने के डर से उसे नींद नहीं आती थी ।  अब वो समय पर मजदूरी करने जाती है और वापस घर आकर चैन की नींद सोती है ।

प्रधानमंत्री ने ऊषा बाई से परिवार के सदस्यों के बारे में भी पूछताछ की । प्रधानमंत्री के इस प्रश्न के जवाब में ऊषा बाई ने बताया कि उसके पति की मृत्यु करीब 14 साल पहले एक सड़क दुर्घटना में हो गई थी ।  तब से वह अकेले रह रही है और मेहनत मजदूरी करके अपना जीवन यापन कर रही है । माँ और भाई उसके पड़ोस में बने कच्चे मकान में रहते हैं ।

प्रधानमंत्री की आत्मीयता भरी बातों से उत्साहित होकर ऊषा ने उन्हें बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्का घर मिलने के साथ-साथ प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन भी उसे प्राप्त हुआ है ।  जिससे उसे खाना बनाने के लिए लकड़ी कंडों का इंतजाम नहीं करना पड़ता ।  ऊषा बाई ने बताया कि उसे विधवा पेंशन भी मिल रही है और रियायती दर पर खाद्यान्न भी नियमित रूप से प्राप्त होता है ।

पड़ोसियों के बारे में प्रश्न किये जाने पर ऊषा बाई ने प्रधानमंत्री को बताया कि गाँव के कई लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला है ।  ऊषा बाई ने प्रधानमंत्री से कहा कि उसी की जैसी हैसियत वाले पड़ोसियों को भी अब यह लगने लगा है कि उनका भी पक्के घर का सपना जल्दी पूरा होगा ।  ऊषा बाई ने उसे मिले इस सुअवसर का फायदा उठाते हुए श्री मोदी से आग्रह किया कि प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उन सभी गरीबों को दिलायें जो आर्थिक तंगी के कारण पक्के घर का सपना पूरा नहीं कर सकते । ऊषा बाई ने प्रधानमंत्री से बातचीत में प्रधानमंत्री आवास योजना को सबसे अच्छी योजना बताया ।  उसने प्रधानमंत्री को इस योजना और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना को प्रारंभ करने के लिए साधुवाद भी दिया ।

ऊषा बाई गौंड प्रधानमंत्री आवास योजना की उन 17 हितग्राहियों में शामिल थी जो इस योजना के तहत आज सुबह प्रधानमंत्री द्वारा बुलाई गई वीडियो कांफ्रेंसिंग में शामिल होने कलेक्टर कार्यालय के वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष पहुंची थी । वीडियो कांफ्रेंसिंग रूम से निकलने के बाद ऊषा बाई ने प्रफुल्लित होकर कहा कि उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि प्रधानमंत्री से उसकी बात होगी ।

कोई जवाब दें