Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

नरसिंहपुर में रेतमाफियाओं के हौंसले बुलंद हैं जहां आये दिन रेत के लिये खूनी संघर्ष हो रहा है,  घूरपुर खदान में आधी रात में दर्जनों लोगो पर जानलेवा हमला होना साफ दर्शाता है, कि अब रेत रेत नहीं सोना हो गई है, जिस पर हक जताने, खूनी जंग हो रही है, अभी घूरपुर खदान की खूनी जंग खत्म नहीं हुई थी, कि तहसील करेली के रातीकरार पंचायत में नर्मदाघाट में श्रद्धालुओं को नहाने में जान का खतरा लगने लगा है, ऐसा ही कुछ नर्मदाभक्त उमेश पटेल निवासी रातीकरार के साथ हुआ, नर्मदाघाट पर उसे सेल्फी लेना काफी मंहगा पडा
हुआ यूं कि जब उमेश पटेल ने नर्मदाघाट पर सेल्फी लेना चाही, तो रेतमाफियों की नजर उस पर पड गई, और उन्होनें सोचा कि ये हमारी रेत निकालने की वीडियो बना रहा है, इसी बात पर रेतमाफियाओं ने उसकी डंडो व रॉडो से पिटाई कर दी, तभी उसके सहयोगी द्वारा उसे बचाया गया, यदि हम नहीं होते तो उसे जान से मार देते, वहीं रातीकरार के सरपंच सचिव सहित सैकडों ग्रामीणों ने थाना करेली पहुंचकर मामला कायम करवाया, कुल आठ लोगो पर मामला कायम हुआ, जिसमें धारायें 147, 148, 149, 294, 323, 427, 506 लगाई गई.
इसके बाद भी, ग्रामीणों का गुस्सा शांत नहीं हुआ, वे राज्यमंत्री जालम सिंह पटेल, कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक के पास गये, व आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर पहुंचे, रातीकरार सरपंच पति द्वारा खनिज निरीक्षिका अनुपमा सिंह पर भी गंभीर आरोप लगाये, उन्हें पूर्व में कई बार अवैध उत्खनन की सूचना दी जा चुकी थी पर इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई, जल्द कार्रवाई नहीं तो, ग्रामीण धरना पर बैठेगें.
 खबर लिखे जाने तक, करेली थाना TI महोदय द्वारा बताया गया कि,आठो आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं

कोई जवाब दें