Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शिकायत की है. उन्होंने कर्नाटक चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भाषा पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह कांग्रेस को धमकाने का काम कर रहे हैं. कांग्रेस की ओर से राष्ट्रपति को लिखे इस पत्र में में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हुबली में दिए गए भाषण पर आपत्ति जताई गई है. चिट्ठी में कहा गया है कि प्रधानमंत्री को किसी के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

ज्यादातर मौकों पर शांत और चुप रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री और सीनियर कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी की भाषा को लेकर राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। मनमोहन सिंह ने लिखा है कि प्रधानमंत्री मोदी की भाषा अनुचित, धमकी देने और डराने वाली है। उन्होंने कहा कि यह भाषा प्रधानमंत्री के पद के योग्य नहीं है।

राष्ट्रपति करें पीएम मोदी को आगाह
कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने इस पत्र में यह भी कहा, ‘‘राष्ट्रपति देश का संवैधानिक मुखिया होता है और प्रधानमंत्री एवं उनकी कैबिनेट को परामर्श देना या मागदर्शन करना राष्ट्रपति का कर्तव्य होता है। प्रधानमंत्री से इस तरह की भाषा की उम्मीद नहीं की जाती है चाहे वह चुनाव के समय ही क्यों नहीं बोल रहे हों।’’ पार्टी ने कहा, ‘‘राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को आगाह करें कि वह कांग्रेस पार्टी या किसी भी दूसरी पार्टी के लिए इस तरह की अवांछित और धमकी भरी भाषा का इस्तेमाल नहीं करें क्योंकि यह प्रधानमंत्री पद की गरिमा के अनुरूप नहीं है।’’

DdJPxMIVAAAvlrt.jpg

मनमोहन सिंह ने भारत के राष्ट्रपति को लिखा कि वह पीएम को कांग्रेस पार्टी के नेताओं या किसी अन्य पार्टी के नेताओं के खिलाफ अनुचित, धमकाने वाली और डराने वाली भाषा का उपयोग करने से सावधानी बरतने के लिए कहें, क्योंकि यह प्रधानमंत्री के पद के योग्य नहीं है।DdJPyHGVMAAszuZ.jpgइस लेटर में पीएम मोदी की हाल ही कर्नाटक के हुबली में हुई रैली का जिक्र भी है। इस पत्र में लिखा है, ‘प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का दिनांक 6 मई को कर्नाटक के हुबली में दिए गए भाषण का अंश…कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लीजिए, अगर सीमाओं को पार करोगे, तो ये मोदी है, लेने के देने पड़ जाएंगे…।’ इस पत्र में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई बड़े कांग्रेस नेताओं के भी साइन हैं। नेताओं में पी. चिदंबरम, अशोक गहलोत, दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, मुकुल वासनिक, मोतीलाल वोरा, अंबिका सोनी, आनंद शर्मा, एके एंटनी और अहमद पटेल शामिल हैं।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस और गांधी परिवार पर जमकर हमले किए। हुबली में ही पीएम ने कहा था, ‘कांग्रेस के नेताओं को जवाब देना चाहिए कि उनकी ‘मां’ और उनका बेटा (सोनिया और राहुल) जमानत पर हैं। उनके खिलाफ 5000 करोड़ रुपए का मामला दर्ज कराया गया है। जिस पार्टी का प्रमुख जमानत पर हैं वो हमसे प्रश्न पूछता है।’ गौरतलब है कि कांग्रेस नेताओं द्वारा राष्ट्रपति को भेजा गया ये पत्र कर्नाटक चुनाव परिणाम से एक दिन पहले सामने आया है. मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणाम आएगा.

कोई जवाब दें