IPL क्रिकेट का पर सट्‌टा लगते 3 आरोपी रंगेहाथ गिरफ्तार, टी.वी., लाखों के लेनदेन की सूची सहित नगदी बरामद

0
534
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

इन्दौर। शहर में आपराधिक कृत्यों में लिप्त आरोपियों की आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने तथा अवैधानिक रूप से संचालित कियें जा रहे क्रिकेट सट्‌टे के कारोबारियों को चिन्हि्‌त कर, उनकी पतारसी कर उचित वैधानिक कार्यवाही करनें के निर्देश पुलिस उपमहानिरीक्षक इन्दौर शहर श्री हरिनारायणाचारी मिश्र द्वारा दियें गयें है।  उक्त निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक मुखयालय श्री मो0 यूसुफ कुरैशी के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच श्री अमरेन्द्र सिंह द्वारा क्राइम ब्रांच की एक टीम को इस बिन्दु पर कार्यवाही करनें के लिए योजनाबद्ध तरीके से लगाया गया। 

उक्त निर्देश पर कार्यवाही के दौरान क्राईम ब्रांच इन्दौर की टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना कनाड़िया क्षेत्र के सर्वसुविधा नगर में कुछ लोग आईपीएल क्रिकेट के सट्‌टे का संचालन कर रहे हैं। उक्त सूचना पर क्राईम ब्रांच इंदौर की टीम द्वारा सर्वसुविधा नगर में मुखबिर तंत्र सक्रिय किया जाकर सूचना एकत्रित की गई तो विदित हुआ कि सर्वसुविधा नगर कनाड़िया क्षेत्र में भरत पिता गुलाबचंद आईदसानी नि. 87 सर्वसुविधा नगर स्वयं के मकान में क्रिकेट के सट्‌टे का कारोबार संचालित कर रहा है। जानकारी एकत्रित की जाकर क्राईम ब्रांच इंदौर एवं थाना कनाड़िया पुलिस टीम द्वारा सयुंक्त कार्यवही करते हुये उपरोक्त पते पर दबिश दी गई जहॉ चार ऑनलाईन क्रिकेट का सट्‌टा संचालित करते हुये मिले।

मौके पर उपस्थित चारों आरोपियों में से एक व्यक्ति मौका देखकर वहॉ से फरार हो गया, शेष तीनों आरोपियों को पुलिस टीम ने घेराबंदी कर पकडा गया। पकड़े गये आरोंपियों ने अपने नाम 1. भरत पिता गुलाबचंद आईदसानी निवासी 87 सर्वसुविधा नगर 2. प्रतीक पिता सुगन किशोर बोरस निवासी 49 गणराज नगर इंदौर 3. विकास पिता किशोर वर्मा निवासी 44 विनोबा नगर इंदौर का होना बताये। पकड़े गये तीनों आरोपियों से पूछताछ में मौके से फरार हुये चौथे व्यक्ति के बारे में पूछताछ करने पर तीनों आरोपियों ने उसका नाम महेश जिनवाल निवासी श्याम नगर थाना हीरानगर का होना बताया।

पुलिस पूछताछ में आरोपी भरत उर्फ पिन्टू ने बताया कि वह वर्तमान में शांति इंटरप्राईजेस शोरूम पर टू-व्हीलर मेकेनिक का कार्य करता है। आरोपी भरत ने बताया कि पहले किसी इमरान नाम के व्यक्ति के साथ सट्‌टे का कारोबार करता था, बाद में भरत ने स्वयं क्रिकेट के सट्‌टे का काम शुरू कर दिया तथा महेश जिनवाल, विकास वर्मा एवं प्रतीक बौरासी आदि के साथ गुट बनाकरक्रिकेट सट्‌टे की बुकिंग करना प्रारंभ किया था।

आरोपी विकास पिता किशोर वर्मा ने बताया कि वह टैटू आर्टिस्ट है तथा आरोपी भरत एवं उसके ग्रुप के अन्य लोगों के साथ मिलकर क्रिकेट सट्‌टे का कारोबार करता है, जबकि आरोपी प्रतीक पिता सुगनकिशोर बौरासी नि. 49 गजराजनगर इंदौर ने बताया कि वह ग्राफिक्स डिजायनर का कार्य श्री ग्राफिक्स दुकान, बंगाली चौराहे पर करता है। आरोपी प्रतीक पूर्व में लड़ाई-झगड़े एवं मारपीट के आरोप में थाना एम.आई.जीत्र पर गिरफ्तार हो चुका है।

आरोपी प्रतीक ने बताया कि भरत सट्‌टे का कारोबार विगत कई वर्षो से कर रहा था जोकि उनके गुट का सरगना था आरोपी भरत की आरोपी प्रतीक की पहचान उसके किसी दोस्त के माध्यम से हुई थी, इसी के चलते आरोपी भरत के साथ मिलकर आरोपी प्रतीक भी क्रिकेट सट्‌टे के कारोबार में संलिप्त हो गया था। मौके से फरार आरोपी महेश जिनवाल नि. श्याम नगर थाना हीरानगर के विषय में जानकारी एकत्रित करने पर पता चला कि महेश जिनवाल पूर्व में कुलकर्णी का भट्‌टा पर अंकों का सट्‌टा करता था तथा सट्‌टे के अपराध में थाना परदेशीपुरा में कई बार पकड़ा जा चुका है, तथा वर्तमान मेंआई0पी0एल0 के क्रिकेट का सट्‌टा संचालित करने का काम करता है।

पुलिस की टीम द्वारा आरोपियों तथा मकान की तलाशी लेने पर उनके कब्जे से 09 मोबाईल फोन, केलकुलेटर, लाखों रूपये के लेनदेन का हिसाब-किताब तथा एलईडी टी.वी., सेटअप बॉक्स, ब्रॉडबेंड, नोटिंग रजिस्टर, नगदी 5130 रू. आदि मश्रूका जप्त किया गया। पूछताछ के दौरान यह भी ज्ञात हुआ कि आरोपियों ने कई सिमकार्ड फर्जी दस्तावेजों का उपयोग कर खरीदे है उन्हीं सिम कार्डों का उपयोग वह सभी सट्‌टे के अवैध कारोबार में कर रहे थे।

आरोपियों को गिरफ्तार किया जाकर उनके विरूद्ध थाना कनाडिया में अपराध क्रमांक 184/18 धारा 3,4 सार्वजनिक जुआ अधिनियम एवं धारा 467, 468, 471 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया जोर विवेचना में लिया गया है। आरोपियों से सट्‌टे के कारोबार में लिप्त अन्य व्यक्तियों के विषय में विस्तृत पूछताछ जारी है, साथ ही मौके से फरार हुये आरोपी महेश जिनवाल की भी तलाश की जा रही है।

कोई जवाब दें