आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 3 दिन की नोटिस के बाद बर्खास्तगी के निर्देश

0
18
Spread the love

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 3 दिन की नोटिस के बाद शुक्रवार को नौकरी से निकालने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं. महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक प्रतीक खरे ने ये निर्देश सभी जिला कलेक्टरों को दे दिए हैं.

आपको बता दें कि निर्देश में साफ लिखा है कि सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय समय समय पर बढ़ाया गया है. बावजूद इसके आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हड़ताल कर बच्चों का हित प्रभावित कर रही है. इस कारण महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक प्रतीक खरे ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को नौकरी से निकालने के निर्देश सभी जिले के कलेक्टरों को दे दिए हैं.

वहीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सरकार के इस कार्रवाई के बाद हड़ताल जारी रखने की बात कह रही हैं. साथ ही आज से ही अलग अलग जिलों के कार्यकर्ता राजधानी में जुटने की तैयारी में लग गए हैं.

मामले में कवर्धा आंगनबाड़ी संघ की जिला अध्यक्ष पार्वती यादव ने कहा कि बीते 5 मार्च से वे अपनी तमाम मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर हैं. उनका कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं जाती हैं, तब तक उनकी घरना यूं ही जारी रहेगा. इस बीच वे किसी भी नोटिस के डर से अपने घरना को खत्म नहीं करने वाली हैं.

जिला अध्यक्ष ने कहा कि अब उन्होंने जो कदम आगे बढ़ा लिए हैं, उसे वो पीछे नहीं खींचने वाली हैं.

कोई जवाब दें