मणिशंकर के फिर विवादित बोल, पाकिस्तान में मिला प्यार भारत में मिलती है नफरत

0
30
Spread the love

इस्लामाबाद। कांग्रेस के निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर ने मंगलवार को एक और विवादित बयान दिया कि पाकिस्तान में उन्हें जितनी मोहब्बत मिली है, भारत में उससे कहीं ज्यादा नफरत मिलती है। 

एक टेलीविजन चैनल के मुताबिक अय्यर ने कहा कि पाकिस्तान में हजारों लोग जिन्हें मैं जानता तक नहीं, मुझसे गले मिलते हैं, शुभकामनाएं देते हैं। मुझे पाकिस्तान में जितना प्यार मिला है, उसकी तुलना में कहीं ज्यादा नफरत भारत में मिलती है। मैं यहां आकर खुश हूं। लोग मेरी बातों पर तालियां बजाते हैं क्योंकि मैं शांति की बात करता हूं।

इसे भी पढ़ें :- न्यूज चैनल एवं स्थानीय केबल से प्रसारित होने वाले विज्ञापन बिना प्रमाणीकरण के प्रसारित नहीं होंगे, केबल ऑपरेटरों के प्रशिक्षण में दी जानकारी

इसे भी पढ़ें :- BJP के निशाने पर राहुल गांधी, येदुरप्पा ने कहा- मुर्गा खाने के बाद किए मंदिर के दर्शन

अय्यर ने कराची में एक कार्यक्रम के दौरान कल भी एक विवादित बयान दिया था। पाकिस्तानी चैनल जियो न्यूज ने उनके हवाले से कहा कि उन्हें इस बात का अफसोस है कि पाकिस्तान तो भारत-पाकिस्तान मुद्दे को बातचीत के जरिए हल करने को तैयार है लेकिन भारत इसके लिए तैयार नहीं है। भारत-पाकिस्तान के मुद्दों को हल करने का एक ही तरीका है, वह है लगातार और बिना रुकावट बातचीत। मुझे गर्व है पाकिस्तान की विदेश नीति में ये तीन शब्द स्वीकार किए गए हैं लेकिन दुख है भारत की विदेश नीति में ये स्वीकार नहीं किए गए हैं।

इसे भी पढ़ें :- इस क्रिकेटर के प्यार में पागल थी माधुरी, घरवालों को बिना बताये किया था ये शर्मनाक काम

इसे भी पढ़ें :- देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ दर्ज हैं 11 क्रिमिनल केस, नीतीश कुमार पर है हत्या का आरोप

उनके इस बयान पर विवाद अभी पूरी तरह से थमा नहीं था कि उन्होंने एक और विवादित बयान दे दिया। कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि आतंकवाद भारत और पाकिस्तान के बीच एक गंभीर और संवदेनशील मुद्दा है। जिस पर मोदी सरकार को अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें :- इजरायल : पुलिस ने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ रिश्वत का मामला चलाने की सिफारिश

इसे भी पढ़ें :- हिन्दुस्तान का सबसे बड़ा ठग जिसने 3 बार ताजमहल, 2 बार लाल किला और 1 बार राष्ट्रपति भवन को बेच डाला

पाक के साथ आतंकवाद पर कोई बात होगी या फिर केन्द्र सरकार आतंकवाद के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगी। वही कांग्रेस वीरप्पा मोइली ने कहा कि नेता के इस बयान से पार्टी को कर्नाटक में नुकसान हो सकता है। जैसा गुजरात चुनाव के समय हुआ था।

कोई जवाब दें