अपने पहले ऐसी ठगी की खबर नहीं सुनी होगी. इस खुबसूरत एक्ट्रेस ने लोगो से 200 करोड़ रूपये ठग लिए. आज हम आपको इसकी 200 की ठगी के बारे में बताने जा रहे है जो इसने एक फ्रोड कंपनी बना कर 45000 लोगो से ठगे है. दरशल ये एक्ट्रेस है अनारा गुप्ता जो 12 साल पहले मिस जम्मू भी रह चुकी है.

TOC NEWS

इलाहाबाद। यूपी एसटीएफ ने फिल्म अभिनेता अजय देवगन के नाम पर हजारों लोगों से 200 करोड़ रुपए ठगने करने वाले गिरोह का पर्दाफाश पर्दाफाश किया। ठगी के इस गिरोह में मिस जम्मू रही अनारा गुप्ता का भी नाम सामने आया है। इलाहाबाद के सिविल लाइंस से इस गिरोह के फर्जी डॉयरेक्टर ओमप्रकाश यादव को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है जिसके बाद यह पूरा मामला सामने आया।

ओमप्रकाश के पास से मोबाइल, लैपटाप, आठ रजिस्टर और व्हाट्सएप पर अनारा गुप्ता से बातचीत का रिकार्ड भी बरामद हुआ है। एसटीएफ ने फिल्म अभिनेता अजय देवगन के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी को जो कहानी बताई वो हर किसी को हैरान कर देने वाली है। अनारा गुप्ता ने खोली कंपनी ठगों के इस गिरोह ने इम्पेरर मीडिया एंड इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के नाम से एक प्रोडक्शन हाउस खोला और फिर लोगों से आन लाइन पैसा जमा कराने लगे।

इस कंपनी की हेड पूर्व मिस जम्मू अनारा गुप्ता बनी और लोगों को दावे के साथ ऑफर दिया जाने लगा कि हम अजय देवगन के साथ नई फिल्म बना रहे हैं। फिल्म के बॉक्स आफिस पर आते ही कंपनी इनवेस्टर को 6 से 10 प्रतिशत तक हर हफ्ते शेयर देगी। यूपी, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में ओमप्रकाश यादव जैसे लोग इनके एजेंट बने।

फिर शहर में सेमिनार आयोजित होता जिसमें अनारा गुप्ता आकर लोगों को आसानी से अपने झांसे में ले लेती। फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े होने और बड़ा नाम होने के कारण अनारा गुप्ता की बात में हर कोई आता गया। अब तक हजारों लोगों ने अजय देवगन की फिल्म के लिये इस प्रोडक्शन हाउस को पैसा दिया। 10 साल पहले अनारा गुप्ता के साथी से हुई मुलाकात एसटीएफ के हत्थे चढ़े ओमप्रकाश ने प्रोडक्शन हाउस ठगी का राज खोलते हुये बताया कि 10 साल पहले लखनऊ में आयोजित एक सेमिनार में सबसे पहले उसकी मुलाकात इस गिरोह से हुई।

गिरोह को जम्मू की अनारा गुप्ता चला रही थी और उसके साथ देश के अलग अलग हिस्से से कई और बड़े नाम भी थे। इलाहाबाद के लिये ओमप्रकाश को ऑफर किया गया कि वह इनवेस्टमेंट भी करे और एजेंट के तौर पर इनवेस्टमेंट भी कराए। ओमप्रकाश को समझाया गया कि इम्पेरर मीडिया एंड इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड हिन्दी और भोजपुरी में फिल्म बनाती है। पहले फिल्मों में माफियाओं का पैसा लगता था लेकिन अब कंपनी आम लोगों को इसमें सीधे जोड़ रही थी। ओमप्रकाश को खूब सारा लालच आया और पैसा भी दिखा तो उसने गिरोह ज्वाइन कर लिया और लोगों के पैसे प्रोडक्शन हाउस में लगवाने लगा।

मौजूदा समय में अजय देवगन स्टार कास्ट फिल्म बनाई जा रही थी, लेकिन अब पुलिस आगे की फिल्म पूरी करेगी। अनारा गुप्ता करती थीं सेमिनार इलाहाबाद में ओमप्रकाश ने 1,011 लोगों से 3 करोड़ रुपये जमा करा लिये थे। इस समय इनकी नई फिल्म अजय देवगन की दिलवाले पार्ट2 बन रही थी। एसटीएफ ने बताया कि निवेशकों को शुरू में कुछ पैसे मुनाफे का बताकर दिये गए लेकिन इन दिनों जब कंपनी ने पैसे देने बंद कर दिये तो मामला दूसरा खुला। एसटीएफ का दावा है कि शातिरों ने यूपी, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में लोगों के साथ ठगी की है।

संबंधित इमेज

लोगों को झांसा देने के लिए अनारा गुप्ता बड़े शहरों में सेमिनार करती थी और उन्हें वहां बुलाकर प्रोडक्शन हाउस के बारे में जानकारी देकर ठगी की जाती थी। फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े होने पर अनारा गुप्ता के जाल में फंसकर हजारों लोगों ने अपनी कमाई गंवा दी। इस खेल में ओमप्रकाश को 15 लाख रुपये कमीशन मिला था। क्या बोले अधिकारी एसटीएफ के सीओ प्रवीण सिंह चौहान ने बताया कि इलाहाबाद में राकेश मिश्र समेत 8 लोगों ने फिल्म के नाम पर पैसा लगाया था और सभी ठगी का शिकार हुये।

अनारा गुप्ता करती थीं सेमिनार

इन आठों की संयुक्त तहरीर पर सिविल लाइंस थाने में पूर्व मिस जम्मू अनारा गुप्ता, ओमप्रकाश यादव, शत्रुघ्न टी सिंह, नरेश कुमार और प्रदीप कुमार के खिलाफ अमानत में खयानत और ठगी का केस दर्ज हो गया है। जबकि लखनऊ में पांच अन्य की शिकायत पर भी मुकदमें इनके खिलाफ लिखे गये हैं। ओम प्रकाश के अलावा जल्द ही इसमें शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तार भी की जाएगी।

कोई जवाब दें