TOC NEWS

पटनाः जदयू के बागी नेता शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता रद्द कर दी गई है। इस पर शरद यादव और अली अनवर ने अपना बयान जारी किया है। 

शरद यादव का कहना है कि बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद उन्होंने नीतीश कुमार के खिलाफ बागी तेवर अपना लिए थे जिसके कारण उनके खिलाफ यह फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि वह सच्चाई के लिए सदा लड़ते रहेंगे।

वहीं दूसरी तरफ अली अनवर ने सुप्रीम कोर्ट जाने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि यह फैसला गलत है और वह इस फैसले से डरेंगे नहीं। उन्होंने शायरी करते हुए जवाब दिया और कहा- ‘न मैं गिरा, न मेरे हौसले की मिनार गिरे, पर मुझे गिराने में कुछ लोग कई बार गिरे’।

बता दें कि उपराष्ट्रपति एम. वैंकेया नायडू ने सोमवार को शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता रद्द कर दी थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जदयू ने राज्यसभा सदस्यता रद्द करने के लिए याचिका दायर की थी।

कोई जवाब दें