सामने आया रियल टारजन, जंगलो में हैं इसका बसेरा, ताकत हैं बेशुमार

0
68
Spread the love

TOC NEWS

आपने टारजन का नाम तो सुना ही होगा। इसे लेकर कई फिल्में भी बनी हैं। जिसमें एक शख्स जंगलो में रहता हैं, वह अपने शरीर को ढकने के लिए पेड़ों की छाल पहनता हैं।

इसी सब पर अधारित एक मामले के बारे में आज हम बता रहें हैं। आपको बता दें कि हमारे देश में एक असली टारजन मिला हैं। जी हां, हाल ही में एक असली टारजन देखने को मिला हैं। यह बिकुल वैसा ही हैं जैसा आप अब तक टीवी पर देखते आए हैं।जंगल में रहने वाला टारजन खुद में कई लोगों की ताकत रखता हैं और कपड़ो से दूर भागता हैं।

इसे भी पढ़े :- प्रेमी संग तीन युवकों को गेस्‍ट हाऊस में देख पति ने खोया आपा, जानिए फिर क्या हुआ

इसे भी पढ़े :- इतिहास की 3 खूबसूरत स्त्रियां जिन्होंने इतिहास बदल दिया था

आपको बता दें कि यह युवक असम के किरबी अंगलांग जिले के एक पहाड़ी गांव में रहता हैं। वैसे तो इस व्यक्ति का नाम ओंग बे हैं, पर जिस प्रकार से यह व्यक्ति जंगल में अपना जीवन गुजारता हैं और कपड़े पहनने से परहेज करता हैं उसको देख कर लोगों ने इसे टारजन का ही नाम दे दिया हैं।

चाह कर भी गांव में नहीं आ पाता टारजन –

दुनिया के सामने आया रियल टारजन, जंगलो में हैं इसका बसेरा, ताकत हैं बेशुमार

इसे भी पढ़े :- इस कातिल हसीना ने पति, तीन बच्चों और एक भतीजे की हत्या

इसे भी पढ़े :- भूमाफिया ठेकेदार का गुर्गा गरीब आदिबासी की जमीन पर कर रहा दबंगाई से सड़क निर्माण की कोशिश

ओंग बे नामक इस व्यक्ति का जीवन भी फ़िल्मी टारजन की ही तरह हैं। गांव के लोगों ने इस व्यक्ति को कपड़े पहना कर गांव में लाना चाहा, पर इसके लिए ओंग बे ने इंकार कर दिया और वह सामान्य तरीके से जंगल में बिना कपड़ों के ही अपना जीवन गुजारता हैं। आपको बता दें कि ओंग बे की वर्तमान उम्र करीब 30 वर्ष हैं। ओंग बे गांव के लोगों से मिलना चाहता हैं तथा वह गांव में होने वाले शादी समारोह आदि में शिरकत भी करना चाहता हैं, पर गांव के लोग उसके सामने जब कपडे पहन कर आने की शर्त रखते हैं तो वह मना कर देता है और चाह कर भी वहां नहीं जा पाता।

इस स्थान पर रहता है टारजन –

इसे भी पढ़े :- खुलेआम होता है देह व्यापार, रोकने के लिए क्यों नहीं उठाए कदम, HC में याचिका दायर

इसे भी पढ़े :- आरटीआई एक्टविस्ट *कुणाल शुक्ला* ने किया बड़ा खुलासा. *स्काई वॉक* के निर्माण पर की जा रही फ़िज़ूलख़र्ची

आपको बता दें ओंग बे नामक यह टारजन असल प्रदेश में आंगलांग जिले के अंतर्गत आने वाले एक छोटे पहाड़ी गांव “डेरा आरलोक” का निवासी है पर वह गांव से दूर पहाड़ के पास बनी अपनी एक झोपड़ी में रहता है। ओंग बे सामान्य लोगों की अपेक्षा अधिक लंबा है तथा ताकतवर भी है। लोगों का कहना है की उसके शरीर में कई लोगों की ताकत है। वह सभी लोगों के साथ बातचीत करता है तथा अपने खेतों में फसल भी उगाता है।

कोई जवाब दें