TOC NEWS // छतरपुर | 23-नवम्बर-2017

महिला सशक्तिकरण तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वाधान में पुलिस कॉन्फ्रेन्स हॉल, पुलिस लाइन छतरपुर में, किशोर न्याय अधिनियम 2015 एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला में जिले के समस्त थानों में पदस्थ बाल कल्याण पुलिस अधिकारी, विशेष किशोर पुलिस इकाई प्रभारी, लक्ष्मण अनुरागी एवं समस्त सदस्य, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्यगण, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं सदस्य, जिले में संचालित समस्त गृहों के संचालक/प्रबंधक, चाइल्ड लाइन छतरपुर एवं खजुराहो के सदस्य एवं जिला बाल संरक्षण इकाई के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

कार्यशाला के आरंभ में पुलिस अधीक्षक विनीत खन्ना द्वारा सभी उपस्थितजनों को अधिनियम की संवेदनशीलता एवं मंशा के अनुरूप कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया। ताकि बच्चों का सर्वोत्तम हित संभव हो सके, तत्पश्चात किशोर न्याय अधिनियम 2015 पर सविस्तार जानकारी जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी ऊदल सिंह ठाकुर द्वारा प्रोजेक्टर पर प्रेजेन्टेशन के द्वारा दी गई,

जिसमें उनके द्वारा पुलिस विभाग के बाल कल्याण अधिकारियों को बच्चों के साथ व्यवहार, बेहतर तालमेल एवं उनके सर्वोत्तम हित को ध्यान में रखते हुए अधिनियम की सम्पूर्ण कार्यप्रणाली की विस्तृत जानकारी दी गई। कार्यक्रम को आगे बढाते हुए दमोह जिले के विशेष आमंत्रित प्रतिनिधि संजीव मिश्रा एवं जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी दमोह द्वारा पॉक्सो अधिनियम 2012 पर चलचित्रों के माध्यम से बच्चों के साथ होने वाली यौन हिंसा संबंधी जानकारी एवं कानूनी प्रावधानों से अवगत कराया गया।

कोई जवाब दें