दोस्त की पत्नी को हवस का शिकार बनाने वाला आरोपी 2 दोस्तों सहित गिरफ्तार

0
95
Spread the love

TOC NEWS  

जिला फिरोजपुर : ब्यूरो चीफ – गुरमेज सिंह 

Mob. No. :  09781235621

जालंधर (शौरी) : महिला थाने की पुलिस ने एक व्यक्ति को दोस्त की पत्नी को हवस का शिकार बनाने के आरोप में तथा इसमें उसका साथ देने वाले उसके 2 दोस्तों, जोकि सगे भाई हैं, को गिरफ्तार किया है।

आरोपी अपने दोस्त की पत्नी को धमकियां देकर लगातार 5 माह तक हवस का शिकार बनाता रहा, आखिरकार पीड़िता ने पूरी बात अपनी जेठानी व जेठ को बताई तो दोनों ने आरोपी को रंगे हाथों काबू करने की योजना बनाई, लेकिन आरोपी मौके से फरार हो गया। उसकी कमीज दम्पति ने पुलिस के हवाले कर दी।

जानकारी के मुताबिक वडाला चौक के पास रहने वाली 35 वर्षीय प्रवासी महिला के पति की दिमागी हालत ठीक नहीं रहती। उसके पति का यू.पी. में रहने वाला दोस्त राम मूरत हाल निवासी वडाला चौक अक्सर उनके घर आया-जाया करता था। उसनेधीरे-धीरे अपने दोस्त की पत्नी पर बुरी नजर रखनी शुरू कर दी। जैसे ही पति काम पर जाता तो वह पीछे उसके क्वार्टरों में स्थित कमरे में जाकर उसकी पत्नी को हवस का शिकार बनाता। पीड़िता को आरोपी राम मूरत धमकियां देता रहा कि यदि उसने उसके साथ शारीरिक संबंध न बनाए तो वह उसके पति व बच्चों को जान से मार देगा।

इसे भी पढ़ें :- सेक्स का बादशाह चढ़ा पुलिस के हत्थे, 150 महिलाओं के साथ मिले अश्लील

महिला थाने में तैनात एस.एच.ओ. जरनैल सिंह ने बताया कि पीड़िता ने उक्त बात अपनी जेठानी व जेठ को बताई तो उन्होंने डी.सी.पी. के समक्ष पेश होकर शिकायत दी। पुलिस ने तुरंत आरोपी राम मूरत के खिलाफ केस दर्ज किया, जांच में पता चला कि उसके दोस्त दिवाकर पाल व सुशांत उर्फ बबलू दोनों पुत्र ओमकार निवासी यू.पी. हाल वडाला चौक भी इस मामले में दोषी हैं। जब राम मूरत पीड़िता के घर उसके साथ जबरदस्ती करने जाता था तो दोनों भाई क्वार्टर के बाहर निगरानी करते थे।

भाजी किते फोटो ना लगा दिओ

महिला थाने की पुलिस जैसे ही आरोपियों को मैडीकल करवाने के लिए सिविल अस्पताल लाई तो केस की जांच अधिकारी सब-इंस्पैक्टर महिला अधिकारी तीनों की पर्ची बनाने के लिए पर्चियों वाले काऊंटर की तरफ गई लेकिन तीनों को एमरजैंसी वार्ड में रखी कुर्सियों में बिठाने के स्थान पर महिला अधिकारी ने उन्हें जमीन पर बिठा दिया।

जैसे ही छायाकार ने फोटो खींची तो महिला अधिकारी ने तुरंत तीनों को उठने का इशारा किया, लेकिन 2 भाई उनका इशारा न समझ सके और आरोपी राम मूरत तुरंत उठकर खड़ा हो गया। हालांकि सब इंस्पैक्टर कहती रही कि भाजी किते फोटो ना लगा दिओ।

कोई जवाब दें