ब्लॉग

प्रेस की आज़ादी के लिए सबसे बड़ा खतरा खुद पत्रकार : अभिसार शर्मा

अभिसार शर्मा हम उस युग में जी रहे हैं जब पत्रकार के नाम पर अनाप शनाप झूठी बातें फैला दी जाती हैं और फिर संस्कार...

सहज संवाद / ललित कला के माध्यम से ही जीवन का मानसिक लक्ष्य...

सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया व्यक्ति के रागात्मक पक्षों की संतुष्टि से सकारात्मक सोच का जन्म होता है। चित्त की स्थिरता के लिए इन्द्रीयजनित...

सरकार को हुजूर नहीं, जी हुजूर जज चाहिए, सुप्रीम कोर्ट की घटनाओं को गौर...

क्या आप सुप्रीम कोर्ट और सरकार के बीच जो कुछ चल रहा है, उसे बारीकी से देख रहे हैं? जो भी ख़बरें छप रही...

सहज संवाद / विश्व-गुरू के सम्मान हेतु देश को देना होगी अग्नि परीक्षा

सहज संवाद /  डा. रवीन्द्र अरजरिया समाज के अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति को मुख्यधारा में लाने का प्रयास करने वालों की लम्बी फेरिस्त सरकारी दस्तावेजों...

सहज संवाद / आराध्य का आचरण स्वीकारे बिना अध्यात्म में उतरना असम्भव

सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया जीवन के दर्शन को अध्यात्म के सर्वमान्य सिद्धान्त के रूप में स्वीकार करना, मानवता की सार्थकता को प्रदर्शित करना है।...

सहज संवाद / समाज को पुष्ट करती है सक्षम लोगों की उदारवादी प्रकृति से उगने...

toc news सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया सामाजिक विकास के सरोकार को मूर्त रूप देने के लिए सरकारी सुविधाओं और योजनाओं की देश में...

सहज संवाद / इंसानियत के लिए समझने होंगे इबादत के असली मायने

सहज संवाद /  डा. रवीन्द्र अरजरिया        खुदा की इबादत से जिन्दगी संवारनें का रास्ता अख्तियार करने वालों के बीच आम आवाम खुद-ब-खुद...

सहज संवाद / बाह्य आडम्बर में लुप्त होता जा रहा है शाश्वत चिन्तन

सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया वैभव की पराकाष्ठा को दरिद्रता की न्यूनतम सीमा के साथ मिलाने की कहानियां आज भी देश के ग्रामीण अंचल...

सहज संवाद / भविष्य को उजागर करने में सक्षम है ज्योतिष

सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया         भविष्य के बारे में चिंतित रहना मानव की सहज प्रवृत्ति है और इसी के कारण वह आने वाले...

सत्ता के दायित्व से कहीं अधिक बडा होता है संत का कर्तव्यबोध

सहज संवाद / डा. रवीन्द्र अरजरिया समाज का सत्य कहीं अनन्त में स्थापित है, जिसे जानने का प्रयास चिरकाल से साधकों द्वारा तपस्या के माध्यम...

Login

Register | Lost your password?