अपने अटूट जज्बे से बनाएं खेल को मजबूत: श्री रोहित सोनी

0
190
Spread the love

toc news

  • बालको के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य कबड्डी संघ के तत्वावधान में जिला कबड्डी संघ नेआयोजित की राज्य स्तरीय सब जूनियर कबड्डी प्रतियोगिता।
  • 15 बालिका और 18 बालक टीमें कर रहीं भागीदारी।

बालकोनगर,6 जनवरी ‘‘ अपने अटूट जज्बे से खेल कैरियर को आगे बढ़ाएं।

IMG_1657.JPG दिखाया जा रहा है कबड्डी में अपार संभावनाएं हैं। उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय स्तर की स्पर्धाओं में स्थान बनाएं। ’’ बालकोनगर के डॉ. अंबेडकर स्टेडियममें संचालित छत्तीसगढ़ राज्य स्तरीय सब जूनियर कबड्डी प्रतियोगिता का उद्घाटन कर ये उद्गार बालको केमुख्य वित्तीय अधिकारी श्री रोहित सोनी ने व्यक्त किए।

इसे भी पढ़ें : – माफिया को नष्ट कर दो पुलिस से बोले शिवराज

श्री सोनी ने अपने उद्बोधन में खिलाड़ियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पढ़ाई-लिखाईके साथ खेल अत्यंत महत्वपूर्ण है। देश में अनेक व्यावसायिक आयोजनों ने कबड्डी के खिलाड़ियों के लिएनई संभावनाएं निर्मित की हैं। श्री सोनी ने विश्वास जताया कि यहां से चुने हुए खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर परदेश का नाम रौशन करेंगे।

इसे भी पढ़ें : – कमरा नंबर 213 का रहस्यः युवक-युवती ने दी जान, वजह का खुलासा नहीं

विशिष्ट अतिथि छत्तीसगढ़ कबड्डी संघ के कोषाध्यक्ष श्री बसंत अंचल ने बालको के सहयोग की प्रशंसा करतेहुए कहा कि बालको ने राज्य में कबड्डी को आगे बढ़ाने की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। विशिष्टअतिथि नाम्स के महासचिव श्री गिरीश शर्मा ने खिलाड़ियों और खेलप्रेमियों को बताया कि खेल प्रतिभाओं कोआगे बढ़ाने के लिए बालको प्रबंधन का योगदान उत्कृष्ट है। छत्तीसगढ़ कबड्डी संघ के महासचिव और कोरबाजिला कबड्डी संघ के अध्यक्ष श्री बसंत शर्मा ने आयोजन में सहयोग के लिए बालको के प्रति आभार जताया।छत्तीसगढ़ कबड्डी संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री डी.बी. साहू तथा बालको के औद्योगिक संबंध प्रबंधक श्री गजेंद्ररजावत कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथियों के तौर पर मौजूद थे।

IMG_1655.JPG दिखाया जा रहा है

श्री सोनी ने खेल ध्वज फहराया। उन्होंने उद्घाटन मैचों के बालक और बालिका टीमों से मुलाकात की।

परिणाम एक नजर में

बालक वर्ग

दंतेवाड़ा विरूद्ध दुर्ग – 59-21

बिलासपुर नगर विरूद्ध चरौदा – 55-11

बिलासपुर विरूद्ध दुर्ग – 72-15

बालिका वर्ग

रायपुर विरूद्ध बिलासपुर – 12-52

भिलाईनगर विरूद्ध चरौदा – 30-4

कोई जवाब दें