हाईकोर्ट ने नरसिंहपुर के पत्रकार के खिलाफ कार्रवाई पर लगाई रोक

0
142
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने अंतरिम आदेश के जरिए नरसिंहपुर के पत्रकार दीपक श्रीवास्तव के खिलाफ किसी भी तरह की कठोर कार्रवाई पर रोक लगा दी है

जबलपुर। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने अंतरिम आदेश के जरिए नरसिंहपुर के पत्रकार दीपक श्रीवास्तव के खिलाफ किसी भी तरह की कठोर कार्रवाई पर रोक लगा दी है। साथ ही कलेक्टर नरसिंहपुर को 10 दिन के भीतर जवाब पेश करने कहा गया है।

सोमवार को जस्टिस सुजय पॉल की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। इस दौरान याचिकाकर्ता की ओर से पक्ष रखा गया। दलील दी गई कि नरसिंहपुर के कलेक्टर व तहसीलदार ने पुलिस अधीक्षक को द्वेषपूर्ण तरीके से पत्र लिखा था। जिसे गंभीरता से लेकर पुलिस अधीक्षक ने बिना जांच किए जिला बदर की कार्रवाई शुरू कर दी।

आवाज उठाए जाने के बाद नरसिंहपुर के कलेक्टर व तहसीलदार ने जो आरोप लगाए थे, उनकी जांच एएसपी अभिषेक राजन ने की और अपनी रिपोर्ट में क्लीनचिट दे दी। इसके बावजूद नरसिंहपुर के कलेक्टर व तहसीलदार ने दुर्भावना का रवैया बदला नहीं। वे किसी भी तरीके से फंसाने में जुटे हैं।

कोतवाली थाना प्रभारी के जरिए एक फर्जी केस इसी प्रक्रिया के तहत दर्ज करवाया गया है। तीन आंदोलनों के लिए भड़काने का आरोप- पत्रकार दीपक श्रीवास्तव पर आरोप लगाया गया है कि उनकी लेखनी की वजह से नरसिंहपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आंदोलित हुए। इसके बाद किसान गन्ना आंदोलन की वजह भी वे ही बने। यही नहीं उन्होंने ही एनटीपीसी में भी आंदोलन करवाने में अहम भूमिका निभाई।

कोई जवाब दें