सोनाक्षी सिन्‍हा अभिनेत्री पर धोखाधड़ी 420 की FIR दर्ज, सोनाक्षी के घर पुलिस पहुंची, जानें ये है धोखाधड़ी का पूरा मामला

0
875
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

  • सोनाक्षी को ढूंढने मुंबई के बंगले पर पहुंची थी पुलिस 
  • सुरक्षा अधिकारियों ने मुरादाबाद पुलिस के आने की खबर से किया इनकार 
  • सोनाक्षी के खिलाफ यूपी के मुरादाबाद में दर्ज हुआ था मामला 

मुंबई . यूपी के मुरादाबाद शहर में बॉलिवुड ऐक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा सहित पांच लोगों के खिलाफ दर्ज 24 लाख रुपये की धोखाधड़ी के मामले में यूपी पुलिस ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई की। इस केस के सिलसिले में गुरुवार को पुलिस मुंबई में सोनाक्षी के जुहू स्थित रामायण बंगलो पहुंची थी, हालांकि वहां वह नहीं मिलीं।    

सूत्रों के मुताबिक, इस मामले में पुलिस सोनाक्षी का बयान लेने यहां पहुंची थी। अब पुलिस शुक्रवार को सोनाक्षी का बयान लेने उनके बंगलो जा सकती है। हालांकि, रामायण बंगलो के सुरक्षा अधिकारियों ने मुरादाबाद पुलिस के आने की खबर से इनकार किया है। बता दें कि सोनाक्षी के खिलाफ पूर्व में मुरादाबाद के निवासी प्रमोद शर्मा की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था।

इसे भी पढ़ें :- 8 साल की मासूम से रेप और हत्या केस में कोर्ट का बड़ा फैसला, दोषी दरिन्दे को फांसी की सजा

पुलिस के मुताबिक कटघर इलाके के शिवपुरी गांव निवासी प्रमोद शर्मा ने बीते 24 नवंबर को मुरादाबाद के एसएसपी से सोनाक्षी सिन्‍हा के खिलाफ शिकायत की थी। प्रमोद के मुताबिक, उन्‍होंने दिल्ली में 30 सितंबर को इंडिया फैशन ऐंड ब्यूटी अवार्ड कार्यक्रम का आयोजन किया था। इसमें अवार्ड बांटने के लिए सोनाक्षी को आना था।

इसे भी पढ़ें :- पत्रकारों पर हमला करने वाला हिस्ट्रीसीटर बदमाश नामी गुंडा पुलिस गिरफ्त में, पुलिस ने निकला शहर में जुलूस

खाते में जमा किए गए थे 24 लाख रुपये

इसके लिए प्रमोद ने टैलेंट फुल ऑन कंपनी से करार किया था। प्रमोद का दावा है कि सोनाक्षी की निजी सचिव मालविका पंजाबी से बातचीत के बाद उन्‍होंने उनके खाते में फीस के पैसे ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिए थे, पर ऐन वक्‍त पर सोनाक्षी ने कार्यक्रम में आने से इनकार कर दिया। इसके बाद वादी ने पुलिस से इसकी शिकायत की थी।

इसे भी पढ़ें :- ईशा गुप्ता का आरोप: वह व्‍यक्‍ति मेरे साथ आंखों से रेप कर रहा था

आत्महत्या की कोशिश के बाद दर्ज हुआ केस

आरोप है कि, वादी ने एक प्रार्थना पत्र देकर न्याय की मांग की थी, लेकिन जांच कर रहे क्षेत्राधिकारी टाल-मटोल करते रहे। इसके बाद वादी ने 13 फरवरी को जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसके इस कदम के बाद थाना कटघर में धारा 420,120 बी, 406,34 आईपीसी में एफआईआर दर्ज की गई।

इसे भी पढ़ें :- भाजपा नेता प्रदीप जोशी लड़कों से अप्राकृतिक यौन संबंध बनाते थे : वीडियो वायरल

कोर्ट ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक

एफआईआर में सोनाक्षी सिन्हा, अभिषेक सिन्हा, मालविका पंजाबी, धूमिल कक्कड़, एडगर सकारिया को नामजद आरोपी बनाया गया था। इस एफआईआर को हाई कोर्ट में चुनौती दी गई थी, जिसके बाद कोर्ट ने सोनाक्षी को बड़ी राहत देते हुए उनकी गिरफ्तारी पर फिलहाल रोक लगा दी गई।

कोई जवाब दें