सोते समय शिशु या बच्चो को आता है ज्यादा पसीना तो ना करे नजरअंदाज, हो सकते हैं यह 4 कारण

0
1868
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

 

हम आपको छोटे शिशु के ज्यादा पसीना आने के बारे में जानकारी देने वाले हैं| आप अक्सर देखते हैं कि जो छोटे बच्चे होते हैं उनकी हथेलियों और पैरों के तलवों से सामान्य से ज्यादा पसीना निकलता है| ऐसे में अक्सर हम पसीना निकलने को सामान्य रूप में ले लेते है| कई बार देखा जाता है कि बच्चों को सर में काफी पसीना आता है जो कि सामान्य नहीं है और किसी गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकते हैं|

वैसे तो पसीना आना एक सामान्य प्रक्रिया है| बताना चाहेंगे कि शरीर में मौजूद टॉक्सिंस को शरीर से बाहर निकालने के लिए शरीर कई तरह की क्रियाएं करता है जैसे मल, मूत्र, पसीना इत्यादि से टॉक्सिंस बाहर निकलते हैं| अगर छोटे शिशु को सामान्य से अधिक पसीना आ रहा है, तो यह खतरनाक हो सकता है| आइए जानते हैं यह किन बीमारियों का संकेत हो सकते हैं|

1. सांस की समस्या

कई बार छोटे शिशु को नींद में सांस की समस्या उत्पन्न हो जाती है, जिसके कारण कुछ सेकंड्स के लिए सांस रुक जाती है| ऐसे में सांस लेने के लिए लगातार किए गए प्रयासों से शिशु के तलवे वह हथेलियों और शरीर पर पसीना आने लगता है| इस स्थिति में शिशु को झकझोर कर जगाना चाहिए, जिससे वह रोने लगे| जब शिशु रोते हैं, तो उनकी सांस तेज चलने लगती है जिससे शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति हो जाती है| इसके बाद तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए|

2. बुखार के कारण

अगर शिशु को सामान्य से ज्यादा पसीना आ रहा है, तो उसका एक कारण बुखार भी हो सकता है| बुखार में शरीर का तापमान बढ़ जाता है| इसलिए तापमान को संतुलन में बनाए रखने के लिए पसीना निकलने लगता है| अगर शिशु को ज्यादा पसीना आ रहा है, तो तुरंत उसके बुखार की जांच करें और डॉक्टर को दिखाएं| खासतौर पर घर में थर्मामीटर अवश्य रखें, जिससे घर पर ही बुखार के टेंपरेचर की जांच की जा सके|

3. दिल की बीमारी

अक्सर देखा जाता है कि जन्म से ही कुछ बच्चों को दिल की बीमारी होती है जैसे कि दिल में छेद होना, अनियमित धड़कन, अनुवांशिक रोग इत्यादि| इन सभी कारणों की वजह से भी बेहद ज्यादा पसीना आता है| इसके साथ ही शिशु की त्वचा के रंग में भी बदलाव नजर आने लगता है| यह सांस रुकने लगती है तो शिशु को सबसे पहले सीपीआर दें, इसके बाद तुरंत किसी अस्पताल में ले जाए|

4. हाइपरहाइड्रोसिस

शिशु को अत्यधिक पसीना आना हाइपरहाइड्रोसिस का कारण भी हो सकता है| यह कोई बड़ी समस्या नहीं है लेकिन अगर आपके बच्चे को अत्यधिक पसीना आ रहा है तो आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए| इससे आपके शिशु के स्वास्थ्य की जानकारी भी आपको प्राप्त होती रहेगी| इसके साथ ही हाइपरहाइड्रोसिस होने के बारे में डॉक्टर से पूरी जानकारी और उपाय जाने|

इसे भी पढ़ें :- गांधीनगर से आडवाणी का टिकट यूं ही नहीं कट गया, यह रही वजह

इसे भी पढ़ें :- सैम पित्रोदा ने पहले एयर स्ट्राइक पर उठाए सवाल, अब सफाई में कही यह बात

इसे भी पढ़ें :- यौन संबंध में खलल पड़ने पर 4 बच्चों और एक महिला की हत्या की, कोर्ट ने दी सजा-ए-मौत

कोई जवाब दें