सीबीआई के पूर्व अधिकारी राकेश अस्थाना ने जिंदगी नरक बनाने की धमकी दी थी : क्रिश्चियन मिशेल ने कोर्ट में कहा

0
406
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

सीबीआई के पूर्व अधिकारी राकेश अस्थाना का नाम एक बार फिर विवादों से जुड़ गया है. इस बार अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने उनका नाम लिया है. मिशेल ने कोर्ट में दावा किया है कि दुबई में सीबीआई के पूर्व स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना उससे मिले थे और उन्होंने उसे जिंदगी नर्क बना देने की धमकी दी थी.

जेल में जिंदगी नर्क बनाने की कही बात

क्रिश्चियन मिशेल ने कोर्ट में कहा, ‘कुछ समय पहले राकेश अस्थाना दुबई में मुझसे मिले थे. जहां उन्होंने कहा था कि अगर मैंने जांच के मुताबिक सहयोग नहीं किया तो वो जेल में मेरा जीवन नर्क की तरह बना देंगे. मिशेल ने कहा कि यही मेरे साथ चल रहा है. मुझे अंडरवर्ल्ड के गैंगस्टर छोटा राजन के बगल वाला कमरा दिया गया है. मुझे ये समझ नहीं आ रहा है कि मैंने आखिर कौन सा अपराध किया है, जो मुझे ऐसे लोगों के साथ रखा जा रहा है जो कई हत्याओं के जिम्मेदार हैं.

क्रिश्चियन मिशेल को भारतीय एजेंसियां दुबई से प्रत्यर्पित कर भारत लाई हैं. जिसके बाद ईडी उनसे मनी लॉन्ड्रिंग मामले में लगातार पूछताछ कर रही है. मिशेल ने कोर्ट में बताया है कि उसके साथ खतरनाक आतंकियों और कश्मीरी अलगाववादी भी रखे गए हैं

जेल में मानसिक प्रताड़ना की जांच

क्रिश्चियन मिशेल ने जेल में मानसिक प्रताड़ना का भी आरोप लगाया था. जिस पर कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए तिहाड़ जेल के अधिकारियों को सीसीटीवी फुटेज और मिशेल को दूसरे वार्ड में शिफ्ट करने को लेकर रिपोर्ट मांगी है. इसके अलावा कोर्ट ने ईडी को तिहाड़ जेल में मिशेल से पूछताछ की इजाजत दी है. ईडी अब मिशेल से एक बार फिर पूछताछ करेगी. साथ ही मिशेल के वकील को भी कुछ समय के लिए उससे मिलने की इजाजत मिली है.

क्या है पूरा मामला?

मिशेल को पिछले साल 22 दिसंबर को दुबई से प्रत्यर्पित किया गया. जिसके बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उसे गिरफ्तार किया. ईडी ने मामला दर्ज किया और 5 जनवरी को मिशेल को न्यायिक हिरासत में भेजा गया. इस घोटाले से जुड़े सीबीआई के मामले में वह न्यायिक हिरासत में है. मिशेल उन तीन कथित बिचौलियों में से एक हैं जिसकी जांच ईडी और सीबीआई कर रही है. दो अन्य व्यक्ति गुइदो हाश्के और कार्लो गेरोसा हैं.

कोई जवाब दें