सीबीआई कर रही तापस पाल का रेप, बीजेपी नेता के बिगड़े बोल

0
192
Spread the love

कोलकाता। नोटबंदी से लेकर रोजवैली चिटफंड घोटाले तक, पश्चिम बंगाल की राजनीति में उथल-पुथल का दौर मचा हुआ है। वहीं, इस बीच राज्य में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के साथ जारी राजनीतिक लड़ाई के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता राहुल सिन्हा ने अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया है, और दूसरी तरफ शारदा चिट फंड घोटाले में आरोपी निलंबित तृणमूल सांसद कुणाल घोष ने दावा किया है कि घोटालों में फंसे अपने नेताओं को बचाने के लिए पार्टी अपने वर्कर्स के जज्बात के साथ खेल रही है।

हावड़ा के उलुबेरिया में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल सिन्हा ने कहा कि अब सीबीआई अपनी कस्टडी में तापस पाल का बलात्कार कर रही है। बता दें कि रोजवैली चिटफंड घोटाले में तृणमूल कांग्रेस सांसद तापस पाल को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। राहुल सिन्हा ने तापस पाल के एक पूर्व बयान का संदर्भ दिया जिसमें पाल ने कहा था कि वह अपनी पार्टी के लड़कों को लेफ्ट कार्यकर्ताओं के परिवार का बलात्कार करने के लिए उनके घरों पर भेजेंगे। तापस पाल की गिरफ्तारी के बाद से टीएमसी पूरे पश्चिम बंगाल में बीजेपी के खिलाफ उग्र है। टीएमसी वर्कर्स ने कथित तौर पर बीजेपी के कार्यकर्ताओं को निशाना भी बनाया है।

टीएमसी के प्रदर्शन पर राहुल सिन्हा ने कहा कि तृणमूल के सारे लोगों ने मिलकर शारदा का पैसा खाया। उन्होंने शारदा और नारदा में भ्रष्टाचार किया। गिरफ्तार नेता सुदीप बंदोपाध्याय के पीछे भी तृणमूल के लोग हैं।

वर्कर्स के जज्बात से खेल रही है पार्टीः टीएमसी सांसद

शारदा चिट फंड घोटाले में आरोपी निलंबित तृणमूल सांसद कुणाल घोष ने दावा किया है कि घोटालों में फंसे अपने नेताओं को बचाने के लिए पार्टी अपने वर्कर्स के जज्बात के साथ खेल रही है। कोलकाता में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घोष ने आरोप लगाया है कि पब्लिक डिस्टर्बेंस की बजाए पार्टी को अपनी निजी जांच के लिए बोर्ड गठन करना चाहिए ताकि पार्टी पर लगे आरोपों की छानबीन की जा सके। दूसरे दो एमपी सुदीप बंदोपाध्याय और तापस पाल जो अब जेल में हैं, उनके मुकाबले खुद के साथ सौतला व्यवहार किए जाने का भी घोष ने आरोप लगाया।

NEWS LOGO

जहां तृणमूल नोटबंदी के खिलाफ सड़कों पर उतरी, वहीं कुनाल ने नोटबंदी को सही ठहराया है। हाल ही में घोष को केंद्रीय टेलीकॉम मंत्रालय की ओर से टेलीफोन एडवाइजरी कमिटी में कोलकाता के लिए मेंबर नियुक्त किए जाने चिट्ठी भी मिली है। घोष ने कहा है के वो यह स्वीकार नहीं कर सकते क्योंकि उनका काफी समय कोर्ट केसेस में जाता है।

नोटबंदी के खिलाफ तृणमूल के प्रदर्शनों का सिलसिला

कोलकाता में 9,10,11 जनवरी को आरबीआई और सीबीआई के दफ्तरों के बाहर टीएमसी प्रदर्शन कर रही है। 11 जनवरी को, पार्टी सूत्रों के अनुसार, ममता स्वयं आरबीआई वाले धरने में शामिल हो सकती हैं। दिल्ली में सोमवार को तृणमूल सांसदों की बैठक हुई और प्रदर्शनों की रणनीति पर चर्चा की गई। तृणमूल का एक दल भुवनेश्वर भी पहुंचा है। मंगलवार को भुवनेश्वर में भी प्रदर्शन की बात है।

इसे भी पढ़ें – डिग्री विवाद: CIC ने दिए PM के बैच के सभी छात्रों के रिकॉर्ड दिखाने के निर्देश

इसे भी पढ़ें – फ्लैट पर चल रहा हाई-प्रोफाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, 6 गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें – ‘मैं महेश भट्ट और पूजा भट्ट की बेटी हूं’ : आलिया भट्ट

बाबुल सुप्रियो के मेले पर रोक

आसनसोल के मेयर ने स्थानिय सांसद बाबुल सुप्रियो की अगुवाई में 12 जनवरी से होने वाले सांसद मेले पर रोक लगाने का ऐलान किया है। मेयर का दावा है कि मेले में गाना बजाना होगा जिससे संस्कृति खराब होगी।

इमाम ने पीएम के खिलाफ कहे अपशब्द

कोलकाता में पीएम मोदी के खिलाफ अपशब्द बोलने वाले इमाम बरकती के खिलाफ बीजेपी ने शिकायत की है। बीजेपी नेता रितेश तिवारी ने पुलिस में मामला दर्ज कराया है। रितेश तिवारी का कहना है कि इमाम बरकती का बयान राष्ट्र के खिलाफ युद्ध छेड़ने वाला है। बता दें कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-शुरा नाम की संस्था चलाने वाले इमाम बरकती ने हाल में पीएम मोदी के खिलाफ अपशब्द कहे थे। बरकती को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का करीबी माना जाता है।

कोई जवाब दें