सड़क किनारे चल रही रोड़ की अवैध खुदाई से हो सकता है, गंभीर हादसा, प्रशासनिक अधिकारी मौन, फरियाद सुनेगा कौन

0
485
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा । अवैध रूप से खुदाई करने वालों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि यह लोग सीधे तौर पर अपनी मनमर्जी चला रहे हैं । यह लोग अपने स्वार्थ में इतने डूब गए हैं कि इनके द्वारा किए जा रहे ऐसे कार्यों से आम जनता का कितना नुकसान हो सकता है इसकी भी इन लोगों को कोई फिक्र नहीं है। बस कैसे भी करके अपना कार्य सिद्ध हो जाए इसकी तरफ ही इन लोगों का पूरा ध्यान होता है। आखिर इस तरह से बेखौफ होकर अपने कार्य को अंजाम देना बिना किसी सहायता से तो संभव ही नहीं है । ऎसे में प्रशासन ऐसे लोगों के प्रति क्यों लापरवाह रहता है यह विचारणीय है।

अवैध रूप से चल रही खुदाई से हो सकती है कभी भी गंभीर दुर्घटना

अवैध रूप से चल रही खुदाई का ताजातरीन उदाहरण है नागदा जावरा रोड पर स्थित लेकोड़िया ग्राम के पास प्राप्त जानकारी के अनुसार रोड के किनारे हो रही अवैध रूप से चल रही खुदाई को लेकर है। यह खुदाई रोड के इतने नजदीक हो रही है कि बरसात के मौसम में कभी भी यहां पर गंभीर दुर्घटना हो सकती है। लेकिन ताज्जुब की बात तो यह है कि प्रशासनिक अधिकारियों को इसकी कोई जानकारी ही नहीं है, जबकि रोड के नजदीक खुदाई करने का अंजाम यह होगा कि बारिश के मौसम में रोड पानी के बहाव के कारण कट सकता है। ज्ञात रहे कि यह एक व्यस्ततम रोड है जिससे सैकड़ों की संख्या में वाहन आते जाते रहते हैं जिनमें छोटे से लेकर बड़े वाहन भी शामिल है। ऐसे में रोड कटने के कारण इस मार्ग पर कोई भी गंभीर दुर्घटना यदि हो जाती है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा प्रश्नवाचक है?

बाईट- जगदीश मेहरा SDM खाचरौद

परमिशन लेकर किया जा रहा है

अवैध रूप से की जा रही रोड़ की खुदाई को लेकर जब ग्राम पंचायत मंत्री से मोबाइल पर जानकारी ली गई तो उनका कहना था कि कलेक्टर महोदय से इस खुदाई की परमिशन ली गई है और इतना कहते ही उनके द्वारा फोन काट दिया गया। इसके बाद कई बार फोन लगाकर उनसे चर्चा करनी चाहिए लेकिन उन्होंने फोन ही नहीं उठाया। अब यह परमिशन मौखिक में है या लिखित में है इसकी कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में प्रश्न उठता है कि क्या कलेक्टर महोदय को सही जानकारी देकर परमिशन ली भी है या नहीं।

होगी जल्द कार्रवाई

इस मामले में जब खाचरोद एसडीएम जगदीश मेहरा को अवगत कराया गया तो उनका कहना था कि जल्द ही इस मामले पर ग्राम पंचायत मंत्री से चर्चा कर कार्रवाई की जाएगी।

जगदीश मेहरा SDM खाचरौद

कोई जवाब दें