वीडियो जामिया फ़ायरिंग : BJP नेता ने कहा ‘गोली मारो सालों को’ जामिया में प्रदर्शन के दौरान एक शख्स ने मारी गोली

0
892
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

जामिया में प्रदर्शन के दौरान एक शख्स ने चलाई गोली, बोला- मैं दूंगा सबको आजादी

दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया इलाके में सीएए के खिलाफ विरोध कर रहे छात्रों पर एक शख्स ने गोली चलाई है। इस हमले में एक छात्र घायल हो गया है। वहीं दिल्ली पुलिस ने पिस्तौल लहराने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ कर रही है।

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय पर नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान गुरुवार को प्रदर्शनकारियों पर एक व्यक्ति ने गोली चला दी, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। सबसे हैरानी करने वाली बात यह है कि इतनी कड़ी सुरक्षा के व्यवस्था के बाद भी गोली चली? तस्वीरों जो सामने आ रही है इससे यही पता चलता है कि पुलिस कितनी मुस्तैद है।

तस्वीरों में साफ दिखाई दे रहा है कि एक युवक प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग कर रहा है और पीछे पुलिस हाथ बांधकर मूक दर्शक बनी हुई है।   खबरों के मुताबिक, घटना दोपहर लगभग 1:40 बजे की है। जब जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्र राजघाट तक पदयात्रा निकालने की तैयारी कर रहे थे। तभी एक युवक आया और उसने ‘ये लो आज़ादी’ और दिल्ली पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाते हुए गोली चलाई।

गोली शादाब नाम के छात्र के हाथ पर लगी और घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद अफरातफरी का माहौल बन गया। वहीं पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। सबसे हैरानी करने वाली बात यह है कि इतनी कड़ी सुरक्षा के व्यवस्था के बाद भी गोली चली?   वहीं घटनास्थल पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि युवक पिस्तौल लहराकर यह कह रहा था कि तुम्हें आजादी चाहिए, मैं देता हूं आजादी। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि युवक गोली चलाने के दौरान भारत मां की जय, दिल्ली पुलिस जिंदाबाद और वंदे मातरम के नारे लगा रहा था।

जामिया में शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर गोली किसने और क्यों चलाई? क्या यह नफ़रत की राजनीति का नतीजा नहीं है? केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने दो दिन पहले ही चुनावी रैली में नारा लगवाया था “देश के गद्दारों को, गोली मारो सालों को”। एक के बाद एक दूसरे कई नेता भी ऐसी ही बयानबाज़ी करते रहे हैं। आख़िर क्यों ऐसी स्थिति आन पड़ी? देखिए आशुतोष की बात में वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश और वीरेंद्र सेंगर के साथ चर्चा।

ये जामिया का स्टूडेंट है शादाब जिसको गोली लगी है.

ये गोली चलने का जिम्मेदार है बीजपी का स्टार प्रचारक अनुराग ठाकुर,, गाँधी जी की हत्या के दिन पर गोडसे की औलाद गोपाल ने जामिया के छात्र पर गोली चलाई। ये तस्वीर दिल्ली की है. एक लड़का है जो कि कुछ वक़्त पहले तक शांति मार्च में शामिल था. मार्च राजघाट की ओर हो रहा था.

लड़का अभी बैरीकेडिंग फांदता दिख रहा है. उसके शरीर से खून बह रहा है क्यूंकि उसे गोली लगी है. गोली मारने वाला शख्स हाथ में बन्दूक लिए मार्च कर रहे स्टूडेंट्स की तरफ़ इशारा कर के उन्हें धमकी दे रहा था. पास ही में दिल्ली पुलिस खड़ी थी लेकिन किसी ने कुछ नहीं किया.

गोली लगने के बाद स्टूडेंट्स ने पुलिस से बैरीकेडिंग हटाने को कहा, जिससे गोली खाए लड़के को अस्पताल ले जाया जाए, तो पुलिस ने कुछ नहीं किया. इसी वजह से उसे बैरीकेडिंग को फांदना पड़ा. आपको इस घटना से जुड़ा एक वीडियो भी दिख जाएगा. पुलिस से उस गोली चलाने वाले आदमी की दूरी और पुलिस के हाव-भाव का आइडिया भी लग जाएगा.

एक तरफ पुलिस खड़ी होकर तमाशा देखती रही भारी पुलिस बल की मौजूदगी में जामिया के छात्र को युवक ने ये कहते हुए “किसको चाहिए आज़ादी” गोली मारी | छात्र को होली फैमिली हॉस्पिटल में कराया गया भर्ती|

कोई जवाब दें