विधायक पांसे ने किया ग्राम डहुआ से डहुआ ढाना मार्ग का भूमिपूजन, किसी को नहीं कोराना का डर बिना मास्क के बैठे आयोजन में ग्रामीण

0
203
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

  • 2 करोड़ 89 लाख रुपए की लागत से होगा मार्ग का निर्माण
  • विधायक पांसे ने किया भूमिपूजन

मुलताई। मुलताई ब्लाक के ग्राम डहुआ से डहुआढाना मार्ग का भूमिपूजन गुरूवार को विधायक सुखदेव पांसे ने किया। ग्रामीणों द्वारा लंबे समय से इस मार्ग निर्माण की मांग की जा रही थी। लगभग 4 किमी इस लंबे मार्ग को 2 करोड़ 89 लाख रुपए की लागत से बनाया जाएगा। ग्रामीणों ने बताया कि डहुआढाना से डहुआ आने के लिए कच्ची सड़क पार कर आना पड़ता था, बारिश के दिनों में सबसे अधिक परेशानी होती थी।

डहुआढाना के ग्रामीण वर्षो से ग्राम डहुआ से डहुआ ढाना पहुंच माग  के निर्माण की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणों की मांग को गुरूवार विधायक सुखदेव पांसे ने मार्ग का भूमिपूजन कर पूर्ण कर दी। उक्त मार्ग का निर्माण मध्य प्रदेश लोक निर्माण विभाग भोपाल योजनांतर्गत लगभग 2 करोड़ 89 लाख रुपए की लागत से होगा। भूमि पूजन कार्यक्रम में पांसे ने कहा कि ग्रामीणों को मूलभूत सुविधा मिले यह उनकी प्राथमिकता है।

किसी को नहीं कोराना का डर बिना मास्क के बैठे आयोजन में ग्रामीण
किसी को नहीं कोराना का डर बिना मास्क के बैठे आयोजन में ग्रामीण

ग्रामीणों को ग्राम डहुआ से डहुआ ढाना आवागमन के लिए उक्त मार्ग के निर्माण की आवश्यकता थी। उक्त मार्ग के निर्माण से ग्रामीणों को अब आवागमन में किसी भी प्रकार की परेशानी नही होगी। कार्यक्रम में पांसे ने ग्रामीणों को बताया कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार मेंं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में हर वर्ग के हितों को ध्यान में रखते हुए योजनाएं क्रियान्वित की गई थी।

किसानों का कर्जा माफ करने की प्रक्रिया सतत रूप से जारी रहने के साथ अन्य विकास योजनाओं के क्रियांवयन से आम जनता को लाभ दिलाया जा रहा था,लेकिन सत्ता लोभी भाजपा ने जनता के द्वारा चुनी गई सरकार को गिरा कर अपने स्वार्थ के लिए प्रदेश की जनता के साथ जो अन्याय किया है, उसका जवाब जनता जरूर देगी।

पांसे ने कहा कि उन्हें क्षेत्र की जनता ने विकास की जो जिम्मेदारी सौंपी है, उस जिम्मेदारी का निर्वहन करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे, उन्हें ग्रामीणों द्वारा बताई समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर सरपंच श्रीमती सोनी धनलाल बिंझाड़े, सरपंच उमेश (पिंटू) ठाकरे, बलराम बारंगे, धुरेन्द्र बारंगे, दिनेश गाकरे, अमर सिंह पठाड़े, ग्राम पटेल श्रीमती सरोज बारंगे, उपसरपंच संध्या सुनिल पिंजारे, व्यकंटी पिंजारे, गजानन पिंजारे, डॉ. दिनेश मगरदे, सुभाष बारंगे, युवराज बारंगे, रवि कड़वे, सुरेश गाकरे सहित भारी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।

मास्क और उचित शारारिक दूरी का नहीं रखा ध्यान

सड़क के भूमिपूजन कार्यक्रम में एक बात साफ नजर आई कि गांव में कोरोना का डर नहीं है। ग्रामीण कार्यक्रम में बिना मास्क के उपस्थित हुए थे। वहीं उचित शारारिक दूरी नियम का पालन भी नहीं किया जा रहा था। पास-पास कुर्सियां लगाकर ग्रामीणों को बिठाया गया था। जिले में लगातार कोरोना पैर पसार रहा है, ऐसे में इस तरह के सार्वजनिक कार्यक्रमों में भी उचित शारारिक दूरी नियम का पालन नहीं किया जा रहा है और मास्क तक पहनने से परहेज किया जा रहा है।

कोई जवाब दें