लोकायुक्त ने 9 लाख रुपए के गबन के आरोप में निलंबित सहायक राजस्व निरीक्षक के यहां छापा मारा

0
358
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

इंदौर. लोकायुक्त इंदौर ने मंगलवार सुबह एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए बड़वानी नगर पालिका के निलंबित सहायक राजस्व अधिकारी सतीश नामदेव के घर दबिश दी। नामदेव पर फर्जी तरीके से नीलाम दुकानों की राशि वसूली का आरोप है। लोकायुक्त डीएसपी प्रवीण सिंह बघेल के अनुसार नामदेव पर 9 लाख रुपए के गबन का आरोप है, उसने नीलाम दुकानों की राशि फर्जी तरीके से रशीद बुक छपवाकर वसूली थी।

बघेल ने बताया कि 15 मई को फरियादी नरेंद्र हाजी काग निवासी सजवानी ने इंदौर लोकायुक्त को नामदेव के खिलाफ शिकायत की थी। काग ने बताया कि नामदेव ने फर्जी रशीद छपवाकर नीलाम दुकानों की राशि वसूलकर उसे निगम कोष में जमा नहीं किया। जांच में पता चला कि नामदेव द्वारा 2012-13 से 2016-17 तक निकाय की कुल 58 रसीद बुकों के जरिए 9 लाख रुपए की राशि वसूली गई।
यह राशि नामदेव ने निगम कोष में जमा नहीं करवाई गई। इसके अलावा रशीद बुकों का भी कोई रिकॉर्ड नहीं दिया। शिकायत सही पाए जाने पर लोकायुक्त इंदौर ने नामदेव के खिलाफ धारा 13 (1) डी, 13 (2) पीसी एक्ट 1988 एवं 120 बी के तहत केस दर्ज किया है।
टीम ने सुबह नामदेव के बड़वानी में 83 न्यू मधुवन कॉलोनी स्थित घर पर दबिश दी। दरवाजा नॉक करते ही नामदेव ने गेट खोला। टीम का परिचय सुन उसके पसीने छूट गए। टीम ने परिवार के सभी सदस्यों को एक कमरे में बैठने का कहकर कार्रवाई शुरू की। टीम को घर से सरकारी दस्तावेज मिले हैं, जिनकी जांच की जा रही है।

कोई जवाब दें