रविवार का लॉक डाउन रहा बेअसर सड़कों पर घुमते रहे लोग, कुछ दुकाने भी खुली

0
455
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल // राकेश अग्रवाल : 7509020406 

 

मुलताई। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सप्ताह में एक दिन का लॉक डाउन प्रति रविवार को घोषित किया गया है, लेकिन रविवार को नगर में सड़कों पर चहल-पहल देखी गई, इस दौरान कई दुकाने भी खुली रही। सख्ती से लॉक डाउन नहीं होने से लोग घरो से बाहर निकले। वहीं नगर में अधिकांश लोग मास्क का उपयोग भी नहंी कर रहे हैं। प्रशासन द्वारा कभी-कभार मास्क नहीं पहनने को लेकर जुर्माना किया जाता है, लेकिन रोजान उक्त मुहिम नहीं चलाई जा रही है। जिसके चलते लोग अब इस मामले में लापरवाही बरत रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में तो लॉक डाउन पूरी तरह से बेअसर दिखा, ग्रामीण क्षेत्रों में लेाग कोरोना के डर से बेखौफ नजर आए।

covid 19
मुलताई। मुलताई एवं प्रभात पट्टन क्षेत्र में लगातार कोरोना पाजेटिव मरीज निकल रहे हैं जिससे पूरे क्षेत्र में हड़कंप है। विगत दिनों मासोद पुलिस चौकी में 10 लोगों के स्टाफ का कोरोना पाजेटिव निकलने के बाद उनके संपर्क में आए लगभग 21 ग्रामीणों का लिया गया था। रविवार दो लोगों की रिपोर्ट पाजेटिव आई है जिसमें एक शराब दुकान पर सेल्समेन तथा दूसरा पंप आपरेटर बताया जा रहा है। प्रभात पट्टन बीएमओ जितेन्द्र अत्रे के अनुसार दोनों ही पाजेटिव मरीजों को प्रभात पट्टन के कोविड सेंटर में भर्ती कर उनके निवास के पास का एरिया प्रतिबंधित किया जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शराब दुकान का सेल्समेन कई लोगों के संपर्क में आ सकता है क्योंकि मासोद में स्थित शराब दुकान से आसपास के बड़ी संख्या में गांवों से लोग शराब खरीदने आते हैं एैसी स्थिति में कई लोग शराब दुकान सेल्समेन के संपर्क में आने से संक्रमित हो सकते हैं जो मासोद गांव के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। मासोद में पुलिस स्टाफ के पाजेटिव निकलने से पूर्व से ही हड़कंप मचा हुआ था लेकिन अब शराब दुकान सेल्समेन तथा पंप आपरेटर के भी कोरोना पाजेटिव आने से लोगों में भय व्याप्त हो चुका है। चकोरा में भी निकला 16 वर्षीय किशोर पाजेटिव मासोद में दो कोरोना पाजेटिव मरीज निकलने के साथ ही ग्राम चकोरा में भी एक 16 वर्षीय किशोर कोरोना पाजेटिव निकला है। बीएमओ जितेन्द्र अत्रे के अनुसार उक्त किशोर विगत 16 अगस्त को उत्तर प्रदेश से गांव पहुंचा था। उसका सेंपल 20 अगस्त को लेकर उसे होम क्वरांटाइन किया गया था। रविवार किशोर की रिपोर्ट पाजेटिव आने से उसे प्रभात पट्टन के कोविड सेंटर में भर्ती कर उसके निवास क्षेत्र को प्रतिबंधित किया है। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सप्ताह में एक दिन का लॉक डाउन प्रति रविवार को घोषित किया गया है, लेकिन रविवार को नगर में सड़कों पर चहल-पहल देखी गई, इस दौरान कई दुकाने भी खुली रही। सख्ती से लॉक डाउन नहीं होने से लोग घरो से बाहर निकले। वहीं नगर में अधिकांश लोग मास्क का उपयोग भी नहंी कर रहे हैं। प्रशासन द्वारा कभी-कभार मास्क नहीं पहनने को लेकर जुर्माना किया जाता है, लेकिन रोजान उक्त मुहिम नहीं चलाई जा रही है। जिसके चलते लोग अब इस मामले में लापरवाही बरत रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में तो लॉक डाउन पूरी तरह से बेअसर दिखा, ग्रामीण क्षेत्रों में लेाग कोरोना के डर से बेखौफ नजर आए।

 

कोई जवाब दें