मुलताई एवं बोरदेही थाने में निरीक्षक पदस्थ करने की मांग, लंबे समय से उपनिरिक्षकों के भरोसे चल रहे संवेदनशील थाने

0
340
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

 

मुलताई। मुलताई एवं बोरदेही थाने संवेदनशील होने के बावजूद लंबे समय से निरीक्षक विहीन हैं तथा दोनों ही थाने उपनिरिक्षकों के भरोसे चल रहे हैं। विगत डेढ़ माह पूर्व मुलताई थाने में पदस्थ थाना प्रभारी मनोज सिंह के स्थानांतरण के बाद अभी तक मुलताई थाने की कमान किसी भी निरीक्षक को नहीं सौंपना आश्चर्यजनक है वहीं यही हाल बोरदेही थाने के भी बने हुए हैं जो आदिवासी अंचल होने के कारण संवेदनशील भी है लेकिन यहां भी लंबे समय से उपनिरिक्षक ही थाने की कमान संभाल रहे हैं। 

नवागत पुलिस अधीक्षक के बैतूल आने के बाद पिछले कुछ समय में ही प्रशासनिक कसावट लाने के लिए पूरे जिले के पुलिस अधिकारियों एवं पुलिसकर्मियों को इधर से उधर किया गया है लेकिन मुलताई एवं बोरदेही थाना अभी भी इससे अछूता बना हुआ है जिससे साफ है कि पुलिस अधीक्षक द्वारा दोनों थानों को गंभीरता से नही लिया जा रहा है। बोरदेही में ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रकाश तायवाड़े ने बताया कि थाना प्रभारी अनिल पुरोहित के स्थानांतरण के बाद से ही थाना निरीक्षक विहीन है। इधर खेड़लीबाजार के कांग्रेस नेता राजेन्द्र बिहारिया ने बताया कि बोरदेही क्षेत्र में अवैध गतिविधियां चरम पर रहती है इसलिए यहां निरीक्षक पदस्थ होना आवश्यक है।

जिला तथा प्रदेश सीमा पर स्थित हैं दोनो थाने

बोरदेही थाना जहां छिन्दवाड़ा जिले की सीमा पर स्थित है वहीं मुलताई थाना महाराष्ट्र सीमा पर स्थित है। दोनों ही थानों की सीमा पर अवैध गतिविधियों का संचालन किया जाता है जिसके बाद बोरदेही में जहां अपराधी छिन्दवाड़ा जिले में चले जाते हैं वहीं मुलताई के प्रभात पट्टन क्षेत्र से अवैध गतिविधियों में संलग्र लोग महाराष्ट्र की ओर रूख कर लेते हैं। इतने संवेदनशील थाने होने के बावजूद लंबे समय से निरीक्षक के बिना ही संचालित हो रहे हैं जिससे दोनों ही थाना क्षेत्र में अवैध गतिविधियां जहां बढ़ गई है वहीं निचले स्तर के पुलिसकर्मियों की पौबारह हो गई है।

पुलिस अधीक्षक से निरीक्षक पदस्थ करने की मांग

मुलताई में विगत डेढ़ माह से निरीक्षक नही है तथा थाने की कमान उप निरीक्षक के भरोसे है एैसी स्थिति में नगर के जागरूक नागरिक अजय यादव, चिन्टू खन्ना, राजू पाटनकर, सुमीत शिवहरे, योगेश अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में लोगों ने मुलताई थाने में निरीक्षक पदस्थ करने की मांग की गई है। जागरूक नागरिकों के अनुसार मुलताई थाना संवेदनीशील है तथा पूर्व में नगर का माहौल बिगडऩे से थाने में पथराव भी हो चुका है इसलिए पुलिस अधीक्षक द्वारा इस ओर ध्यान देना आवश्यक है।

कोई जवाब दें