मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विकास यात्रा में तराना में किया 282 करोड़ के कार्यों का भूमि-पूजन/लोकार्पण

0
89
Spread the love

किसानों के हितों की रक्षा के सभी संभव प्रयास किये जायेंगे

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में किसानों के हितों की रक्षा के लिये राज्य सरकार द्वारा सभी संभव प्रयास किये जायेंगे। प्रदेश में सिंचाई का रकबा बढ़कर आज 40 लाख हेक्टेयर हो गया है, इसे और बढ़ाया जायेगा। मुख्यमंत्री आज उज्जैन जिले के तराना में विकास यात्रा के दौरान अंत्योदय मेले में बड़ी संख्या में उपस्थित ग्रामीणों और किसानों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने घोषणा की कि तराना तहसील के प्रत्येक गाँव के लिये सिंचाई की पर्याप्त व्यवस्था के लिये नर्मदा-गंभीर परियोजना से पानी लिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो गाँव बचेंगे उनके लिये पृथक से सिंचाई की योजना बनाई जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मेले में 282 करोड़ के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। श्री चौहान ने इस अवसर पर उज्जैन जिले के लगभग 75 हजार किसानों के खातों में करीब 80 करोड़ की राशि ट्रांसफर की।

श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश के प्रत्येक गरीब व्यक्ति के पास खुद का आवासीय भूखण्ड और मकान होगा। किसानों के कल्याण के लिये संचालित योजनाओं की जानकारी देते हुए श्री चौहान ने कहा कि भावांतर भुगतान योजना की राष्ट्रीय स्तर पर सराहना हुई है। अनेक राज्यों ने प्रदेश में प्रतिनिधि मण्डल भेजकर योजना का अध्ययन करवाया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि भावांतर भुगतान योजना सम्पूर्ण देश के किसानों के लिये लाभकारी सिद्ध होगा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ छब्बीस लाख से अधिक बेटियों को मिला है। यह बेटियाँ जब 18 वर्ष की होंगी तब उन्हें 31 हजार करोड़ की राशि दी जायेगी। उन्होंने कहा कि बेटियों से दुराचार करने वाले व्यक्ति को सीधे फाँसी की सजा का विधेयक प्रदेश की विधानसभा में पारित किया गया है। महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा के मामले में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने की विकासात्मक घोषणाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंत्योदय मेले में माकडोन को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की। साथ ही क्षेत्र के 11 तालाबों का जीर्णोद्धार करने, घोंसला-करेड़ी माता-शाजापुर मार्ग को स्वीकृत, तराना में आईटीआई, माकड़ोन की उप कृषि उपज मंडी को कृषि उपज मंडी का दर्जा, माकड़ोन कॉलेज में वाणिज्य संकाय प्रारम्भ करने, तराना कृषि उपज मंडी में अधोसंरचना विकास के लिये आवश्यक धनराशि स्वीकृत एवं क्षेत्र में विभिन्न ग्रामों की कनेक्टिविटी के लिये सड़क निर्माण की स्वीकृति, बोरखेड़ी बांध योजना का परीक्षण, अभिभाषक संघ के भवन के लिये आवश्यक धनराशि स्वीकृत, ग्राम गोदड़ी, तेजलाखेड़ी, काथड़ी में पीने के पानी की समस्या को हल करने तथा एक हजार से अधिक आबादी के ग्रामों में मुख्यमंत्री पेयजल योजना स्वीकृत करने की घोषणा की।

मेले में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न हितग्राहियों को प्रमाण-पत्र सौंपे। भावान्तर भुगतान योजना में कृषक मोतीसिंह पंवार ग्राम सालाखेड़ी को 77 हजार 36 रूपये की भावांतर राशि का प्रमाण-पत्र, कु. पूर्वी शर्मा निवासी तराना को एक लाख 18 हजार रूपये का लाड़ली लक्ष्मी योजना का राष्ट्रीय बचत-पत्र, ग्राम खातीखेड़ी के श्री दिनेश जोशी एवं श्रीमती तेजकुंवर को एक लाख 20 हजार रूपये की लागत से निर्मित प्रधानमंत्री आवास की चाबी सौंपी। ग्राम दिलौद्री की श्रीमती सीताबाई को कृषि विभाग की योजना के ट्रेक्टर की चाबी सौंपी। नि:शक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना में कु.मेघा एवं निर्मला को लेपटॉप तथा पशु चिकित्सा विभाग की योजना में कड़ाई के कृषक श्री गोविन्दसिंह एवं श्री बालूसिंह आंजना को तीन लाख रूपये के ऋण प्रमाण-पत्र भेंट किये।

इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन, सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय और डॉ.सत्यनारायण जटिया, महामण्डलेश्वर श्री प्रकाशानन्द भारती, विधायक सर्वश्री अनिल फिरोजिया, बहादुरसिंह चौहान, डॉ. मोहन यादव भी मौजूद थे।

 

कोई जवाब दें