मीडिया मनीलांड्रिंग केस: कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम को 1 दिन की CBI हिरासत में भेजा

0
94
Spread the love

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मनीलांड्रिंग केस में पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को कोर्ट ने एक दिन की सीबीआई हिरासत में भेज दिया है। बता दें कि दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में कार्ति चिदंबरम को बुधवार को पेश थी।

सुनवाई के दौरान सीबीआई ने कोर्ट में सुनवाई के दौरान कहा कि कार्ति चिदंबरम के जवाब देने से बच रहे हैं। उन्होंने सबूतों के खिलाफ गलत बयान दिए हैं जिस वजह से जांच में देरी हो रही है। वहीं कार्ति चिदंबरम की ओर से वकील कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि मैं हिंदुस्तान ‘लीवर’ नहीं हूं मैं हिंदुस्तान ‘रिटर्नर’ हूं। क्या यह महाभारत में अश्वथामा के आधे झूठ से कम है।

कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी पर सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ‘सीबीआई ने उन्हें बहुत से मौके दिए लेकिन उन्होंने अपने खिलाफ सभी सबूत पेश होने के बावजूद अपना झूठ जारी रखा। उन्हें निश्चित रूप से जेल जाना होगा और सीबीआई चार्ज शीट फाइल करेगी। यह बहुत बड़ी उपलब्धि है।

आपको बता दें कि कार्ति को चेन्नई एयरपोर्ट से बुधवार सुबह गिरफ्तार किया। इससे पहले, कार्ति के चार्टर्ड एकाउंटेंट एस. भास्कर रमन को दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल से 6 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था।

CBI ने कार्ति की 15 दिनों की कस्टडी मांगी-
पूरे मामले में सीबीआई ने कार्ति चिदंबरम की 15 दिनों की कस्टडी मांगी। इससे पहले इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई को दिए एक बयान में कहा था कि कार्ति चितंबरम ने FIPB क्लियरेंस के लिए एक मिलियन डॉलर की मांग की थी, इसी पर CBI कार्ति की कस्टडी मांग रही है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने यहा आरोप लगाया कि कार्ति ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए आईएनएक्स मीडिया से पैसे लिए ताकि मॉरिशस से निवेश में फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड की शर्तों के उल्लंघन के मामले में कर जांच को मैनीपुलेट किया जा सके। सीबीआई ने भी कहा है कि उसने 10 लाख रूपये के वाउचर्स जब्त किए हैं जो सर्विस के बदले दी गई थी।

कोई जवाब दें