मां-बहन के साथ कई साल से कर रहा था दुष्कर्म, मां-बहन ने ही दे दी सुपारी

1
212
Spread the love

TOC NEWS

सहारनपुर के कुतुबशेर थाना क्षेत्र की एकता कालोनी में मिली सिर कटी लाश का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। सिर कटी लाश एकता कालोनी निवासी फिरोज की थी। हत्या उसकी सगी मां और बहन ने ही सुपारी देकर अपने ही एक पड़ोसी और उसके साथी से कराई थी। मां और बहन का आरोप है कि फिरोज मानसिक रूप से बीमार था और दोनों के साथ ही दुष्कर्म करता था। हत्यारोपियों ने फिरोज की हत्या कर सिर को अपने ही मकान में दबा दिया था। पुलिस ने सिर और हत्या में प्रयुक्त दांव एवं छुरा बरामद कर लिया है।

बृहस्पतिवार को हुए इस जघन्य हत्याकांड का रविवार को नगर पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने खुलासा किया है। गौरतलब है कि बृहस्पतिवार की सुबह थाना कुतुबशेर की एकता कालोनी में आबादी के बीच खाली पड़े एक प्लाट में बोरे में एक सिर कटी लाश मिली थी। उसके हाथ पर एफ लिखा हुआ था।

एसपी ने बताया कि मोहल्ले में जानकारी के बाद ग्राम अफगान, नकुड़ निवासी मो. तालिब उर्फ विनोद कुमार सिंह को पूछताछ के लिए बुलाया तो उसने मृतक की पहचान अपने बेटे फिरोज के रूप में की। जो अपनी मां और बहन के साथ न्यू एकता कालोनी में रहता था। मृतक की पहचान होने के बाद पुलिस ने मृतक की मां और बहन की तलाश शुरू कर दी और उन्हें टपरी रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की गई तो पूरे मामले का खुलासा हो गया। जो कहानी मां और बहन ने बताई उससे सुनकर हर कोई दहल गया।

10 हजार में दी थी फिरोज की सुपारी

मृतक फिरोज की मां और बहन से पूछताछ कर एसपी सिटी ने बताया कि फिरोज मानसिक रोगी था और वह उनके साथ दुष्कर्म करता था। बहन के साथ वह कई बार दुष्कर्म कर चुका था। मां के साथ भी दुष्कर्म किया था। परेशान होकर फिरोज की मां और बहन ने मोहल्ले में ही रहने वाले शाहनवाज से फिरोज को खत्म करने के लिए कहा।

एसपी सिटी ने बताया कि 12 अप्रैल की रात को लगभग 12 बजे फिरोज की बहन ने चाय में उसे कुछ नशीला पदार्थ दे दिया। नशे की हालत में फिरोज को शाहनवाज के घर पर पहुंचा दिया। उसके बाद शाहनवाज ने अपने साथी नासिर उर्फ खान उर्फ बादल के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। रात के अंधेरे में धड़ को बोरे में बंद कर खाली प्लाट में फेंक दिया और सिर को शाहनवाज ने अपने मकान के एक कमरे में दबा दिया।

पुलिस ने इस मामले में मां और बेटी के अलावा हत्यारोपी शाहनवाज निवासी चांद कालोनी तथा नासिर उर्फ खान उर्फ बादल निवासी पीरवाली गली नंबर 12 को गिरफ्तार कर लिया है। शाहनवाज की निशानदेही पर पुलिस ने मृतक का सिर, हत्या में प्रयुक्त दांव और छुरा बरामद कर लिया है।

एसपी सिटी संजय सिंह ने बताया कि मृतक फिरोज की मां और बहन ने 10 हजार रुपये में फिरोज की सुपारी शाहनवाज को दी थी। 2 हजार रुपये एडवांस दे दिए गए थे। शेष रुपये बाद में दिए जाने की बात तय हुई थी।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें