मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की जांच टीम द्वारा नागदा के औद्योगिक इकाइयों एवं ग्रामीण क्षेत्र में जांच कर लिये सेम्पल

0
565
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

ग्रेसिम उद्योग के अंदर पत्रकारों के प्रवेश पाबंदी की तानाशाही का मिथक आज टूटा। मीडिया कवरेज करने के लिये उद्योग के अंदर पहुंचा

नागदा- मध्यप्रदेश शासन द्वारा असंगठित मजदुर कांग्रेस के प्रदेश संयोजक अभिषेक चैरसिया की शिकायत पर गठित की गई विभिन्न विभागो की 9 सदस्यो की जांच समिति की टीम के अंतर्गत मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड इन्दौर एवं उज्जैन की टीम द्वारा आज ग्रेसिम इडस्ट्रीज लिमिटेड, ग्रेसिम केमिकल डिवीजन, लैंक्सेस इंडिया प्रायवेट लिमिटेड एवं गुलब्राण्डसन लिमिटेड ग्राम पारदी एवं उद्योग के समीपस्थ नालों व खाल से केमिकल युक्त रासायनिक जल का सेम्पल जांच हेतु लिया गया। इसके अन्तर्गत सेम्पल की दो प्रतियां करते हुए एक प्रति शासन द्वारा एवं एक प्रति शिकायतकर्ता को व्यक्तिगत स्तर पर जांच करवाने हेतु उपलब्ध कराई गई।

इसे भी पढ़ें :- चेक-पोस्टों पर 500-500 अवैध गाड़ियों से वसूली की शिकायतें, परिवहन माफिया के विरूद्ध होगी कड़ी कार्यवाही : मंत्री राजपूत

बुधवार सुबह से ही जांच दल द्वारा शहर के विभिन्न उद्योगो का दौरा किया गया इस दौरान शहर का मीडिया समूह भी जांच दल के साथ रहा । जांच समिति में प्रदूषण बोर्ड इन्दौर से एस.के. सिंह एवं उज्जैन से ही दीपक काले उपस्थित थे। जांच के दौरान कई जगह रसायनयुक्त जल देखने को मिला जो उद्योगो की सीमा से सटे नालो में मिला। इन नालो से जांच दल द्वारा पानी के सेम्पल भरे गये। वायु प्रदूषण से संबंधित जांच के लिये उपयोग में लाये जाने वाले यंत्र उपलब्ध ना होने की वजह से उच्च अधिकारियों से चर्चा के बाद आगामी दिनों में उनकी जांच करवाई जावेगी।

इसे भी पढ़ें :- फर्जी अंकसूची का मामला गरमाया, शिकायत पर छेडछाड़ व बलात्कार के केस में फ़साने की धमकी

शिकायतकर्ता अभिषेक चैरसिया द्वारा बताया गया कि आगामी दिनों में व्यापक स्तर पर राज्य एवं केन्द्र स्तर के जांच दल नागदा में आकर प्रदूषण एवं उद्योगो में हो रही गंभीर अनियमितता की जांच की जावेगी।  साथ ही उक्त जांच समिति के अन्य विभागों द्वारा भी नागदा शहर एवं चंबल नदी से सटे 22 गांवो में पृथक-पृथक जांच की जा रही है।

इसे भी पढ़ें :- उज्जैन में इनामी गुंडे रौनक गुर्जर और उसके गैंग के सदस्यो का एनकाउंटर, पुलिस ने तीनों अपराधियों को गोली मारी

जब जाच दल लेन्सेक्स उद्योगो पहुचा तो उद्योग के भीतर जाने की बात को लेकर उद्योग के अधिकारियो व मिडिया साथियो मे विवाद की स्थिति बन गई, किन्तु वरिष्ठ पत्रकार कैलास सनोलिया जी के समझाने के बाद लेन्सेक्स उद्योग ने नरमी दिखाते हुवे मिडिया साथियो की बात मान कर उद्योग मे कवरेज करने की अनुमती दे दी। और उद्योग मे सभी मिडिया को जाने की बात को मान लिया । और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड व मिडिया साथियो को लेन्सेक्स उद्योग द्वारा पुरा सहयोग किया गया।

कोई जवाब दें