भोपाल में आग लगने के दो हादसे , आग मे फंसा 35 साल का युवक मदद के लिए चिल्लाता रहा; झुलसने से हुई मौत वही देर रात न्यू मार्केट में लगी भीषण आग, 12 से ज्यादा दुकानें जली; 25 दमकलों ने 4 घंटे में पाया काबू

0
109
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

भोपाल के न्यू मार्केट में देर रात भीषण आग लगने का है। दुकानें आपस में एक दूसरे से सटी होने के कारण आग फैलती गई। इससे 12 से अधिक दुकानें पूरी तरह जल गईं। आग लगने से दुकान और गोदाम में रखा लाखों का सामान जलकर राख हो गया। अच्छी बात रही कि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ।

दुसरा हादसा भोपाल के कोला इलाके में सोमवार देर रात एक मकान में आग लगने से एक 35 साल के युवक की मौत हो गई। युवक घर में अकेला रहता था। घर में आग लगने से वह अंदर ही फंस गया। युवक मदद के लिए चिल्लाता भी रहा। उसकी आवाज सुन मोहल्ले के लोग जमा हो गए। लेकिन, आग इतनी भीषण थी कि कोई उसे बचा नहीं सका।

 

पुलिस की गश्ती टीम ने दुकानों से धुंआ निकलते देख फायर को सूचना दी देर रात न्यू मार्केट की दुकानों में आग लगाने की 17 दिन में दूसरी घटना है।

आग सोमवार रात करीब ढाई बजे लगी थी। आग बुझाने के लिए फायर बिग्रेड की 25 गाड़ियों को लगाना पड़ा। जिस पर सुबह करीब साढ़े 6 बजे काबू पाया जा सका। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन पुलिस और फायर टीम इसे शॉर्ट सर्किट मानकर चल रही है। हालांकि सुबह तक किसी भी व्यापारी ने थाने में कोई कायमी नहीं कराई थी। न्यू मार्केट में 17 दिन में दूसरी बार आग लगी है।

टीटी नगर पुलिस के अनुसार नाइट गश्त की टीम को रात करीब ढाई बजे न्यू मार्केट की तरफ से भारी मात्रा में धुंआ निकलता दिखा। बाजार के अंदर जाने पर दुकानें जलती दिखीं। इसके बाद मौके पर फायर टीम को बुलाया गया। आग को बढ़ता देख नगर निगम के साथ ही भेल की फायर टीम को भी मौके पर बुलाना पड़ा। पुल बोगदा, माता मंदिर, भेल समेत अन्य जगहों से 25 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। फायर टीम ने करीब 4 घंटे की मेहनत के बाद आग पर काबू पा लिया।

पुलिस के अनुसार यह सभी दुकानें सब्जी मंडी की तरफ की हैं। यहां पर कपड़ों, जूतों और ब्यूटी सामान की शॉप हैं। इस कारण आग अंदर ही अंदर भड़कती रही। शटर बंद होने के कारण फायर टीम को आग बुझाने में काफी मेहनत करना पड़ा।

17 दिन पहले भी आग लगी थी

करीब 17 दिन पहले न्यू मार्केट में देर रात ही विमल साड़ी एम्पोरियम के पास काउंटर मार्केट में स्थित टेलरिंग शॉप में आग लगने से अफरा-तफरी मच गई थी। माता मंदिर स्थित फायर कंट्रोल रूम से दो, पुल बोगदा से एक और फतेहगढ़ से एक फायर ब्रिगेड के साथ एक टैंकर मौके पर भेजी गई थीं। उस दौरान भी आग की वजह शॉर्ट सर्किट बताई गई थी।

 

दुसरे हादसे मे एक युवक की आग में झुलसने से मौत हो गई।

कोलार इलाके के गरीब नगर में रहने वाला 35 साल का विनोद अहिरवार प्राइवेट नौकरी करता था। एसआई वशंज श्रीवास्तव ने बताया कि रात करीब 12 बजे विनोद के घर में आग लग गई। उसने चिल्लाना शुरु किया, तो आस-पड़ोस के लोग उसकी मदद के लिए भागे। आग पूरे घर में फैल चुकी थी, जिससे कोई भी अंदर नहीं जा पा रहा था। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पहुंच गई। जिसके बाद टीम ने आग पर काबू पाया।

विनोद अकेला रहता था

एसआई श्रीवास्तव ने बताया कि विनोद की शादी नहीं हुई थी। उसकी मां उससे कुछ दूरी पर दूसरे मकान में रहती है, जबकि वह यहां पर अकेला रहता था। वह शराब पीने का आदी था। घर का पूरा सामान जल चुका है। ऐसे में अभी यह अंदाजा लगाना भी मुश्किल है कि आग शॉर्ट सर्किट से या किसी जलती चीज से लगी है। या फिर लगाई गई है। मौके पर एफएसएल टीम को भी बुलाया गया था। जांच के बाद ही आग लगने के कारणों का पता चल सकेगा।

दरवाजे पर कुंडी में ताला मिला

पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो पुलिस को दरवाजे की कुंडी पर ताला लगा मिला। ऐसे में पहले आशंका यह लग रही थी कि किसी ने बाहर से जानबूझकर ताला तो नहीं लगा दिया, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। पूछताछ और जांच में सामने आया कि कुंडी में हमेशा ताला लगा रहता था, क्योंकि कुंडी कहीं फंसती नहीं थी। ऐसे में बाहर से दरवाजा बंद होने का कोई सवाल ही नहीं है।

कोई जवाब दें