बैटकांड विधायक आकाश विजयवर्गीय को पार्टी से सस्पेंड कर सकती है बीजेपी, अभी नोटिस जारी

0
734
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक में आकाश विजयवर्गीय मसले पर परोक्ष रूप से कहा कि इस तरह का आचरण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. पीएम मोदी की सख्त टिप्पणी के बाद बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय पर आज बीजेपी ने कार्रवाई की है.

पार्टी ने इंदौर नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट बैट से मारने के मामले में आकाश को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. अब बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे को अपनी हरकत पर पार्टी को जवाब देना होगा.

इसे भी पढ़ें :- उज्जैन : होटल शांति पैलेस धमाको की गूंज के साथ हुआ धराशय मुख्य हिस्सा कल गिराया जाएगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नाराजगी के बाद अब ‘बैटमेन’ विधायक आकाश विजयवर्गीय को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से सस्पेंड किया जा सकता है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैट कांड के बाद आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ बीजेपी बड़ा कदम उठा सकती है. इसके अलावा आकाश विजयवर्गीय का साथ देने वाले नेताओं को भी पार्टी से बर्खास्त किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :- कानून तोड़ने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, मीडिया से चर्चा कर कर्मचारियों में विश्वास जगाने का किया प्रयास

इससे पहले मंगलवार को संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयर्गीय द्वारा इंदौर नगर निगम के अधिकारी को बल्ले से पीटने को लेकर गहरी नाराजगी जताई थी. साथ ही पीएम मोदी ने नसीहत देते हुए कहा था कि किसी का भी बेटा हो, लेकिन इस तरह की हरकत नहीं करनी चाहिए, उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा देना चाहिए. मोदी ने कहा था कि हम ऐसा कोई नेता नहीं चाहते जो पार्टी की छवि को खराब करे.

इसे भी पढ़ें :- युवती का अपहरण कर अनजान युवक के साथ जबरन शादी करवा दी, दंग कर देगा ये खुलासा

मोदी ने जेल से छूटने के बाद आकाश विजयवर्गीय का जोरदार स्वागत करने को लेकर भी पार्टी नेताओं की आलोचना की और कहा कि जिन्होंने उनका स्वागत किया, ऐसे नेताओं को भी पार्टी से बर्खास्त किया जाना चाहिए. लेकिन अब पीएम मोदी की इस सख्ती का असर दिखना शुरू हो गया है. माना जा रहा है कि बैटकांड के बाद अब आकाश विजयवर्गीय पर बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा कोई बड़ा एक्शन ले सकते हैं.

इसे भी पढ़ें :- क्या झारखंड के CM रघुबर दास के मुंह से शराब की बदबू आने के कारण पत्रकार ने नाक बंद कर ली…जानिए सच…

बता दें कि इंदौर में जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए नगर निगम की टीम पहुंची थी. इसी दौरान आकाश ने निगम अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटा था. बल्ले से पीटने के मामले में आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था और बाद में उन्हें जमानत दे दी गई. आकाश के जमानत पर जेल से बाहर आने पर उनके समर्थकों ने भव्य स्वागत किया था और उन्होंने जश्न मनाते हुए हवाई फायरिंग भी की थी.

कोई जवाब दें